श्रावस्ती में पागल कुत्ते ने 39 लोगों को काटा: कई मोहल्लों के लोगों पर किया हमला, एक एक कर अस्पताल पहुंचे लोग

140

श्रावस्ती। इकौना में आतंक का पर्याय बने पागल कुत्ते को आखिर कुछ लोगों ने मार दिया। जो शनिवार को पांच पीरान जामा मस्जिद के निकट मृत मिला। इससे लोगों ने राहत की सांस ली है। विज्ञापन शुक्रवार को सुबह से पागल कुत्ते का आतंक इकौना में फैला रहा। कुत्ते के सामने जो भी आया उसे काट कर घायल कर दिया । एक दिन में करीब 50 लोगों को काट कर घायल कर दिया। इसके एक दिन पहले भी कुत्ते ने 18 लोगों को काट कर घायल कर दिया था। सुबह से शाम तक लगभग 39 लोगों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इंजेक्शन लगाया गया। शनिवार के सुबह खरगौरा जनूब निवासी रामनरेश, पांच पिरान जामा मस्जिद निवासी बदलू कंजडवा निवासी ध्रुव कुमार, खेर बनकटी निवासी कोके को पागल कुत्ते ने घायल कर दिया था। पांच पीरान जामा मस्जिद के निकट बदलू नामक युवक को काटने पर पठान पुरवा इकौना देहात के ग्रामीणों ने लाठियां से घेर कर कुत्ते को खेतों में मार गिराया। जिससे इकौना के आसपास ग्रामीण व नगर के लोगों ने राहत की सांस ली। इस संबंध में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इकौना के चिकित्सक डा आशीष से बात की गई तो उन्होंने कहा कि कुत्ते के हमले में घायल लोगों का इलाज किया गया है।

जनपद के इकौना कस्बे के अलग-अलग जगहों पर लोगों के लिए एक पागल कुत्ता आतंक बन गया था। बताते चले कि दिनभर में पागल कुत्ते ने महिलाओं बुजुर्गों और बच्चों को मिलाकर 39 लोगों को लहूलुहान कर दिया। जिसके बाद एक-एक कर सभी अस्पताल पहुंचे। लोगों ने कुत्ते को घेर कर उसका अंत कर दिया जिसके चलते लोगों को पागल कुत्ते के आतंक से निजात मिली है। थाना इकौना क्षेत्र के इकौना कस्बे के अलग-अलग जगहों से कुत्ते के काटने के मरीज एक-एक कर अस्पताल में पहुंचने लगे। दरअसल, एक पागल कुत्ता लोगों को घूम-घूमकर अपना शिकार बना रहा था। किसी के पैर में काटा तो किसी के हाथों में काटा जो भी कुत्ते के सामने आया। उसको उसने लहूलुहान कर दिया। जिसके चलते एक-एक कर दिन भर में 39 लोग सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इकौना में इलाज कराने और एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवाने पहुंच गए। जहां पर स्वास्थ्य कर्मी दिन भर लोगों का एंटी रेबीज का इंजेक्शन देते हुए दिखाई दिए। एक दूसरे से पूरे कस्बे में यह बात फैल गई। हर कोई पागल कुत्ते से अपने को सुरक्षित करने में जुट गया।

लोगों ने घेरकर मार डाला आखिरकार क्षेत्र में पागल कुत्ते का आतंक बढ़ता देख पांच पिरान मस्जिद के निकट लोगों ने उसे घेरकर उसका अंत कर दिया। जिसके बाद लोगों के लिए आतंक बन चुके पागल कुत्ते से लोगों को निजात मिली। लोगों का कहना है कि अगर पागल कुत्ते का समय रहते कुछ नहीं होता तो वह धीरे-धीरे बड़ी संख्या में लोगों को अपना शिकार बनाकर लहूलुहान करता रहता।