क्षेत्राधिकारी नगर द्वारा व्यापारी बंधुओ के साथ मासिक गोष्ठी की गई

106

श्रावस्ती। पुलिस अधीक्षक सुश्री प्राची सिंह के निर्देशानुसार क्षेत्राधिकारी नगर की अध्यक्षता में पुलिस कार्यालय में व्यापारियों के समुचित सुरक्षा व्यवस्था एवं उनकी समस्याओं के त्वरित निराकरण हेतु गोष्ठी की गयी तथा गोष्ठी में आये व्यापारियों से सुरक्षा व्यवस्था के सम्बन्ध में जानकारी ली गयी।
क्षेत्राधिकारी नगर द्वारा व्यापारियों को पुलिस विभाग द्वारा पूर्ण सहयोग देने का आश्वासन दिया गया। साथ ही साथ सर्राफा व्यापारी/पेट्रोल पंप/गैस एजेंसी/भट्ठा मालिको निर्देशित किया गया कि आप लोग अपने माध्यम से जो गार्ड/चौकीदार रखतें हैं उनका पुलिस वेरिफिकेशन अवश्य करा लें।
आपरेशन त्रिनेत्र के अंतर्गत क्षेत्राधिकारी नगर द्वारा सर्राफा व्यापारियों को सीसीटीवी कैमरे लगवाने हेतु प्रेरित किया गया व अन्य प्रतिष्ठान के मालिकों को बताया गया कि बाजारों/दुकानों में काफी भीड़-भाड़ होती है, इसलिए सभी लोग सीसीटीवी अवश्य लगवा ले तथा जो लोग पहले से लगवा रखे हैं तथा वह किसी कारणवश कार्य ना कर रहे हो तो उनकी मरम्मत करवा ले, दुकानों पर अनावश्यक भीड़ एकत्र ना करें तथा किसी भी प्रकार की समस्या होने पर तत्काल पुलिस को सूचित करें या यूपी 112 डायल करें।
यह भी बताया गया जिन व्यापारी बंधुओं के पास फायर सुरक्षा उपकरण मौजूद है तथा अकार्यशील है उनको सुरक्षा के दृष्टिगत तत्काल कार्यशील करा लें तथा उपस्थित स्टाफ को फायर उपकरण चलाने का प्रशिक्षण जरूर दिलवाये। जिससे अग्निकांड की घटना को टाला जा सके।क्षेत्राधिकारी नगर द्वारा उपस्थित सभी व्यापारी बंधुओं को साइबर अपराध के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी देते हुए जागरूक किया गया, उन्होंने बताया कि किसी अनजान लिंक पर क्लिक ना करें, किसी को अपना बैंक डिटेल,ओटीपी शेयर न करें। यदि किसी के साथ साइबर फ्रॉड हो जाता है, तो तत्काल 1930 पर फोन कर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। साथ ही साथ नजदीकी पुलिस स्टेशन में भी शिकायत दर्ज करा सकतें है।इस दौरान अग्निशमन अधिकारी श्री संजय जयसवाल, सभी थानो से आए हुए उपनिरीक्षकगण व श्री दीनानाथ गुप्ता,मो0 रिजवान, श्री दयाशंकर गुप्ता,श्री भोले गुप्ता, श्री अरविंद गुप्ता, श्री श्रवण गुप्ता, श्री विनोद गुप्ता, श्री विक्रान्त सोनी,श्री सत्यप्रकाश सोनी,श्री सुरेन्द्र कुमार ,श्री विक्रमादित्य सहित काफी संख्या में व्यापारी बंधुओ एवं अन्य अधिकारी/कर्मचारीगण मौजूद रहे।