UP: बस कंडक्टर पर हमला करने वाले लारेब हाशमी के घर पर चलेगा बुलडोजर!, जल्द नोटिस जारी कर सकता है PDA

127

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (Prayagraj) जनपद में इलेक्ट्रिक सिटी बस के कंडक्टर हरिकेश विश्वकर्मा पर चापड़ से जानलेवा हमला करने वाले बीटेक छात्र लारेब हाशमी (Lareb Hashmi) के घर पर जल्द ही बुलडोजर कार्रवाई देखने को मिल सकती है। लारेब हाशमी का घर और पोल्ट्री फॉर्म एक ही जमीन पर है। शुरुआती जांच में पता चला है कि सरकारी अमले से मंजूरी लिए बगैर अवैध निर्माण किया गया है।

करोड़ो में घर और पोल्ट्री फॉर्म की कीमत

सूत्रों के अनुसार, प्रयागराज विकास प्राधिकरण की ओर से जल्द ही लारेब हाशमी के पिता यूनुस हाशमी को ध्वस्तीकरण का नोटिस जारी किया जा सकता है। इसके बाद संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की जा सकती है। लारेब हाशमी के घर और पोल्ट्री फॉर्म की कीमत करोड़ों में बताई जा रही है। लारेब हाशमी का पैतृक घर और पोल्ट्री फार्म सोरांव के असवा हाजीगंज में स्थित है।

Also Read: लखनऊ: UP ATS ने ISI के 2 पाकिस्तानी जासूसों को किया गिरफ्तार, लीक कर रहे थे आर्मी की जानकारी

बताया जा रहा है कि पुलिस की सख्ती के बाद से ही आरोपी के परिजन घर छोड़कर फरार हैं। उसके घर और पोल्ट्री फार्म पर ताला लटका हुआ है। उधर, गांव के अंदर पैतृक मकान में रह रही लारेब हाशमी की ताई और बड़ी मां का कहना है कि लारेब हाशमी यहां कभी-कभी ही आता था। वह पास में स्थित मस्जिद में नमाज पढ़ने भी जाता था।

उनका कहना है कि उसके इस कारनामे से वे लोग भी हैरान और परेशान हैं। उन्हें विश्वास ही नहीं हो रहा है कि लारेब ने कोई ऐसा काम किया है। लारेब हाशमी की ताई और बड़ी मां का कहना है कि वीडियो देखकर उन्हें भी लग रहा है कि लारेब ने जो कुछ किया वह गलत है।

Also Read: प्रयागराज: B.Tech स्टूडेंट लारेब हाशमी ने रेता बस कंडक्टर का गला, बोला- मुसलमान को गाली दे रहा था, मैंने हरामजादे को मारा है

नैनी सेंट्रल जेल भेजा गया लारेब हाशमी

वहीं, पुलिस ने आरोपी लारेब हाशमी को नैनी सेंट्रल जेल भेज दिया है। बस कंडक्टर पर हमले के दौरान धार्मिक नारेबाजी और वायरल वीडियो के आधर पर लारेब के आतंकी कनेक्शन की भी आशंका जताई जा रही है, जिसको लेकर एटीएस और दूसरी एजेंसियां भी जांच पड़ताल में जुटी हैं।

एटीएस ने सोरांव के असवा हाजीगंज स्थित उसके घर पर छापेमारी की है और वहां से पेन ड्राइव, डेस्कटॉप और मोबाइल को जब्त कर जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजा है। वहीं, दूसरी तरफ पुलिस कमिश्नर रमित शर्मा के निर्देश पर एक एसीपी के नेतृत्व में गठित विशेष टीम भी अपनी जांच पड़ताल आगे बढ़ा रही है।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.