सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के कत्ल से राजस्थान में तनाव; DGP रख रहे हालात पर नजर, वसुंधरा का भी आया बयान

163

Karni Sena President Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case : राजस्थान में राजपूत नेता सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद कई जिलों में इंटरनेट सर्विस बंद होने की संभावना है।

Karni Sena President Murder Case, जयपुर : राजपूत नेता सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद राजस्थान में तनाव का माहौल है। राज्य के पुलिस प्रमुख पल-पल के हालात पर नजर रखे हुए हैं। सूचना है कि राज्य के कई जिलों में इंटरनेट सर्विस बंद हो सकती हैं। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और हाल में फिर से इस दौड़ में सबसे आगे मानी जाती भारतीय जनता पार्टी (BJP) नेत्री वसुंधरा राजे की भी प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होेंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘X’ पर सुखदेव सिंह की हत्या को लेकर शोक प्रकट किया है।

क्या है पूरा मामला?

बता दें कि मंगलवार को श्री राजपूत करणी सेना के राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को जयपुर में उनके घर में घुसकर गोली मार दी गई। इस बारे में संगठन के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजीत सिंह मामडोली ने बताया कि मंगलवार को 3-4 लोग सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर आए और सुरक्षा गार्ड्स से उनसे (गोगामेड़ी से) मिलवाने के कहा। गार्ड उनको अंदर ले गए तो वहां चाय पीने के बाद अज्ञात लोगों ने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी पर गोलियां बरसा दीं। वारदात को अंजाम देकर बदमाश फरार हो गए और आनन-फानन में घायल राजपूत नेता को महानगर के मेट्रो मास अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

इस घटना के बाद श्री राजपूत करणी सेना की तरफ से दुख व्यक्त किया गया है। संगठन के ऑफिशियल सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘X’ के हैंडलर पर लिखा है, ‘बहुत ही दुखत घटना समाज की बुलंद आवाज सुखदेव सिंह गोगामेड़ी पर 2 राउंड फायरिंग की गई, श्याम नगर इलाके में फायरिंग, जयपुर के मेट्रो मास अस्पताल में करवाया भर्ती इस घटना को सहन नहीं किया जाएगा राजस्थान सरकार अब तैयार रहे’। इसी के साथ पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी सोशल मीडिया पर इस घटना को लेकर दुख जताया है।

राज्यपाल ने डीजीपी से फोन पर बात कर ली जानकारी

उधर, इस मामले के संज्ञान में आते ही राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इससे पहले मिश्र ने घटना के बारे में जानकारी मिलते ही डीजीपी से फोन पर तथ्यात्मक जानकारी ली। उन्होंने प्रदेश में कानून एवं शांति व्यवस्था को सभी स्तरों पर सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अपराधी कोई भी हो, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने आम जन की सुरक्षा और शांति के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा प्रभावी एवं कारगर कदम उठाने के लिए भी विशेष रूप से निर्देश दिए हैं।