कमीशन के चक्कर में नही रुक रहा फर्जी मनरेगा उपस्थिति।

481

प्रत्येक टेबल का फिक्स हैं कमीशन फिर कौन करेगा कार्यवाही।

पहले कमीशन फिर मिलता हैं काम,नो कमीशन नो वर्क।
महराजगंज।निचलौल ब्लाक में मनरेगा में धांधली चरम सीमा पर हैं बिना मजदूर के ही हाजिरी लगा दी जा रही हैं इतना ही नही विभाग के आंख में धूल झोंकने के लिए चकमार्ग को ट्रैक्टर लगाकर रोडावेटर से जुताई करवा दिया जा रहा हैं।

*

आइये एक नजर डालते हैं ग्राम सभाओं में हो रहे कार्यो पर

ग्राम सभा भारत खंड पकड़ी।

दिन:सोमवार
समय:3:00बजे अपराह्न
मनरेगा द्वारा ग्राम सभा में मुनीब के खेत से पियारे के खेत तक चकबन्द कार्य क्षेत्र पंचायत द्वारा करवाया जा रहा हैं जिस पर 7 मस्टरोल पर 70 मजदूरों की उपस्थिति दर्ज करायी गयी हैं लेकिन मीडिया टीम की पड़ताल में कार्यस्थल पर एक भी मजदूर नही मिले।ग्रामीणों द्वारा बताई गया कि आज इस चकमार्ग पर कोई काम नही हुआ हैं।मनरेगा वेबसाइड के प्रोफ़ाइल को देखा जाय तो रोजगार सेवक सत्यनारायण प्रजापति द्वारा अन्यत्र जगह का फोटो लगाकर उपस्थित दर्शा दी गयी हैं।

ग्राम सभा कटहरी कला

दिन सोमवार
समय:3:15 अपराह्न
कटहरी कला में मनरेगा द्वारा मुस्तकीन के खेत से मोहम्मद जैबुद्दीन के खेत तक चकबन्द कार्य मनरेगा के तहत ग्राम सभा द्वारा करवाया जा रहा हैं जिस पर 9 मस्टरोल पर 81 मजदूरों की उपस्थिति दिखाई गई हैं।लेकिन मीडिया टीम के पड़ताल में मात्र 12 मजदूर काम करते हुए मिले।मौके पर ग्राम प्रधान मोहिमुद्दीन भी मिले।उपस्थित मजदूरों ने बताया कि रोजाना 12-13 मजदूर ही काम करते हैं।हैरान करने वाली बात यह हैं कि विभाग के आंखों में धूल झोंकने के लिए उक्त चकमार्ग को ट्रैक्टर लगाकर रोडावेटर से जुताई करवा दी गयी हैं जिससे दिखने में चकरोड पर मिट्टी अधिक दिखे।ग्राम प्रधान द्वारा बताया गया कि हमें नही मालूम कौन जोत दिया हैं।वही दूसरा साइड जो क्षेत्र पंचायत द्वारा करवाया जा रहा हैं पक्की सड़क से नेपाल के खेत तक चकबन्द कार्य पर 6मस्टरोल पर 55 मजदूर कार्य करते हुए दिखाया गया हैं लेकिन मीडिया टीम के पड़ताल में मौके पर एक भी मजदूर नही मिले ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि यह कार्य कुछ दिन पूर्व समाप्त हो चुका हैं।

रोजगार सेवक सत्यनारायण प्रजापति ने क्या कहा।*

रोजगार सेवक सत्यनारायण प्रजापति द्वारा ही इन दोनों ग्राम सभाओं का मनरेगा का कार्य देखा जाता हैं।जिस साइड पर एक भी मजदूर नही मिले उनके द्वारा कहा गया कि मजदूर काम कर रहे थें चले गए।और जिस साइड पर मजदूरों की संख्या कम मिली. उस पर रोजगार सेवक सत्यनारायण प्रजापति ने बहुत ही तीखे अंदाज में कहा कि पूरे ब्लाक में 108 ग्राम सभा हैं सभी जगह ऐसा ही हो रहा हैं केवल हमारा ग्राम सभा थोड़ी हैं।
इस तरह का बयानबाजी सुनकर पाठक समझ सकते हैं कि रोजगार सेवकों के हौसले कितने बुलंद हैं।

अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी ब्लाक निचलौल।

फर्जी उपस्थिति के संदर्भ में जब हमारे संवाददाता ने अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी रविन्द्र बहादुर चौधरी से बात करना चाहा तो उनका फोन नही उठा।

खण्ड विकास अधिकारी निचलौल।

मृदुल और सरल स्वभाव के धनी खण्ड विकास अधिकारी शमा सिंह से जब हमारे संवाददता ने बात किया तो उनके द्वारा कहा गया कि दिखवाती हूँ।विभागीय सूत्रों का माने तो शमा सिंह काम के प्रति इतना निष्ठावान हैं की किसी शिकायतकर्ता के सामने आनन-फानन में तुरंत कार्यवाही करने का आश्वासन देती हैं।और जैसे ही शिकायतकर्ता कुर्सी छोड़कर उठता हैं वह आश्वासन ही रह जाता हैं क्योंकि कुछ विभागीय कर्मचारी इतना कान भर देते हैं कि काम के प्रति निष्ठा और ईमानदारी भूल जाती हैं.