श्री काशी विश्वनाथ धाम में टूटे चढ़ावे के सारे रिकॉर्ड, दो साल में 12.92 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने लगाई हाजिरी

88

काशी पुराधिपति के दरबार का प्रताप है कि यहां हर मनोकामना पूर्ण होती है। यही कारण है कि दो वर्ष में यहां 12.92 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने हाजिरी लगाकर सुखी-स्वस्थ होने की कामना की। पीएम नरेंद्र मोदी ने 13 दिसंबर 2021 को श्री काशी विश्वनाथ धाम (Shri Kashi Vishwanath Dham) का लोकार्पण किया था। काशी के चौतरफ़ा विकास, श्री काशी विश्नाथ धाम का विस्तार, वहां मिलने वाली सुविधा और सुगमता के चलते बाबा के भक्तों ने महादेव के दरबार में हाज़िरी का कीर्तिमान बना दिया है। इसके बाद दिनोदिन भक्तों की संख्या बढ़ती जा रही है। दो साल में काशी पुराधिपति के दरबार में रिकॉर्ड लगभग 12 करोड़ 92 लाख से अधिक लोगों ने शीश नवाया है। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी समय-समय पर बाबा के दर्शन करते हैं और निरीक्षण के दौरान शिव भक्तों की सुरक्षा, सुविधा और सुगम दर्शन का निर्देश देते रहते हैं।

13 दिसंबर को लोकार्पण के हो जाएंगे दो वर्ष

श्री काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण को 13 दिसंबर 2023 को दो वर्ष पूरे हो जाएंगे। बाबा का धाम हर वर्ष भक्तों के आमद का नया कीर्तिमान बना रहा है। प्रतिदिन बाबा के दरबार में लाखों भक्त दर्शन करने आ रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद बाबा के दरबार में सौ बार से अधिक हाज़िरी लगा चुके हैं। श्री काशी विश्वनाथ धाम के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण 13 दिसंबर 2021 को हुआ था। तब से 6 दिसंबर 2023 तक 12 करोड़ 92 लाख 24 हज़ार से अधिक श्रद्धालुओं ने दर्शन किया है। वहीं दिसंबर अंत तक यह संख्या 13 करोड़ पार करने का अनुमान है।

श्रद्धालुओं की सुविधा का भी कुशल प्रबंधन

मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा के मुताबिक मंदिर में श्रद्धालुओं की सुविधा के मद्देनजर कुशल प्रबंधन किया जा रहा है। गर्मी, ठंड और बरसात में तेज धूप से बचाने के लिए जर्मन हैंगर, पैर न जले इसके लिए मैट, कूलर, पीने का शुद्ध पानी, श्रावण मास में दिव्यांगजनों के लिए निःशुल्क व्हील चेयर, सभी के लिए चिकित्सा आदि की व्यवस्था ने शिव भक्तों की मंदिर तक पहुंचने की राह आसान कर दी है।

श्रावण मास 2023 में एक करोड़ से अधिक भक्तों ने बाबा के दरबार में की समृद्धि की कामना

अधिमाह के कारण श्रावण इस बार दो मास का पड़ा था। इसमें जुलाई 2023 में 72,02891व अगस्त में 95,62,206 श्रद्धालुओं ने बाबा के दर्शन किए। दो महीने में यह संख्या लगभग एक करोड़ 67 लाख 65 हजार 97 रही। वहीं श्रावण मास 2022 में काशी पुराधिपति के दर्शन करने वालों की संख्या 76, 81561 थी।

लोकार्पण के बाद श्रद्धालुओं ने किया दर्शन

13 दिसंबर 2021 से दिसंबर 2021 तक— 48,42,700 दर्शनार्थी

जनवरी 2022 से दिसंबर 2022 तक -7,11, 47,000दर्शनार्थी

जनवरी 2023 से 6 दिसंबर 2023 -5, 32, 35,000 दर्शनार्थी

कुल—– 12करोड़ 92 लाख 24 हज़ार 700 दर्शनार्थी