AMU के 2 छात्रों पर UP ATS ने रखा 25-25 हजार ईनाम, आतंकी संगठन ISIS से जुड़ा है मामला

140

यूपी एटीएस (UP ATS) ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के छात्र फैज़ान अख्तर (Faizan Akhtar) और अब्दुल समद (Abdul Samad) के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए दोनों पर 25-25 हजार के इनाम की घोषणा की है. एटीएस का आरोप है कि ये दोनों छात्र सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में शामिल थे और युवाओं को जिहाद के लिए बरगलाने का काम कर रहे थे. ये दोनों छात्र अभी फरार चल रहे हैं.

एटीएस के मुताबिक अलीगढ़ यूनिवर्सिटी के ये दोनों छात्र फैजान और अब्दुल कुख्यात आतंकी संगठन आईएसआईएस के मॉड्यूल से जुड़े थे और जिहादी कार्यक्रमों में एक्टिव तौर पर काम कर रहे थे. ये सोशल मीडिया के जरिए राष्ट्रविरोधी पोस्ट करते थे और दूसरे युवाओं को जिहाद के लिए उकसाने का काम कर रहे थे. इनके मोबाइल फोन से भी देश विरोधी सामग्री मिली है.

यूपीएटीएस इस मामले की जांच में जुटी है और ये जानने की कोशिश कर रही है कि ये दोनों भारत में किन-किन लोगों से जुड़े थे. इनके तार कहां-कहां तक फैले हुए हैं. ये दोनों आरोपी अभी फ़रार बताए जा रहे हैं. एटीएस लगातार इनकी तलाश में जगह-जगह छापेमारी कर रही है. सूचना मिलने पर संदिग्ध जगहों पर भी दबिश दी जा रही है. एटीएस इस मॉड्यूल के दो आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है.

इस बाबत जब अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के प्रॉक्टर वसीम अली से मीडिया ने सवाल किया गया तो उन्होंने बताया कि हमारी जानकारी के मुताबिक वे विश्वविद्यालय के छात्र हैं, लेकिन वो वीएम हॉल में नहीं रह रहे थे. हम इस बारे में कुछ नहीं जानते कि वो कहीं और गुप्त रूप से रह रहे थे.

बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब देश में आईएसआईएस मॉड्यूल से जुड़े मामले में एजेंसियां अलर्ट हैं. ऐसी आशंका जताई जा रही है कि देश में आईएसआईएस धीरे-धीरे अपने पांव पसार रहा है. दिल्ली स्पेशल सेल द्वारा दर्ज की गई आईएसआईएस मॉड्यूल मामले में एफआईआर की जांच एनआईए कर रही है.