बस्ती: बिना ऑनलाइन हाजिरी के करवाया जा रहा है 18 मजदूरों से मनरेगा कार्य

43

बस्ती। विकासखंड रुधौली के ग्राम पंचायत पकरी सोयम में बिना मास्टर रोल के कराया जा रहा है मनरेगा कार्य, आपको बताते चल विगत कई दिनों से मझौआ कला रायठ पुल पर नहर पर लगभग 125 मजदूरों द्वारा मनरेगा हाजिरी लगाई जा रही है जबकि मौके पर मात्र 15 महिला एवं चार पुरुष कार्य करते मिले जब इस प्रकार में स्थानीय लोगों से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया विगत 26 दिनों से मनरेगा का कार्य चल रहा है और रोज इतने ही मजदूर कार्य करते हैं। वीडियो रिकॉर्डिंग के दौरान मीडिया कर्मी से पूछने के दौरान एक गांव का युवक विक्की चौधरी अपने साथी के साथ जाकर मीडिया कर्मी का मोबाइल एवं कैमरा छीनने लगे। बिना किसी कारण से युवक विकी एवं उसके साथी द्वारा मोबाइल छीनने पर काफी कहासुनी हुई। इस दौरान प्रधान धर्मेंद्र कुमार से भी वार्ता कराई गई जिन्होंने अपनी गलती स्वीकार करते हुए माफी मांगा लेकिन चिंता की बात यह है कि क्या किसी मीडिया को ग्राम पंचायत के विकास कार्य को नहीं दिखाया जा सकता। यदि इसी प्रकार अभद्रता की गई तो लोग समाज के विकास एवं भ्रष्टाचार कैसे दिखाएंगे एक बड़ा सवाल बना हुआ है। आपको बताते चलें इसके पहले भी ग्राम प्रधान द्वारा एक अन्य कार्य को लेकर लगभग 4 से 5 लाख रुपए के नुकसान की भरपाई कर चुके हैं। लगातार भ्रष्टाचार में लिप्त खंड विकास अधिकारी धनेश यादव भी फीडबैक लेने पर खुद को व्यस्त बताया।
इसी प्रकरण में जब ग्राम विकास अधिकारी विमल चंद्र मिश्रा से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि आज साइड नहीं चल रहा है फिर किस बात पर वह आज मनरेगा का कार्य करवा रहे हैं जल्द ही इसकी जांच करवा कर उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

विज्ञापन बॉक्स