थाईलैंड से गिरफ्तार स्क्रैप माफिया रवि काना और उसकी प्रेमिका काजल झा को लेकर नॉएडा पहुंची पुलिस

136

नोएडा पुलिस ने स्क्रैप माफिया रवि काना और उसकी प्रेमिका काजल झा को हिरासत में ले लिया है। दोनों की गिरफ्तारी थाईलैंड से हुई थी। बताया जा रहा है कि गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने उसको हिरासत में ले लिया है। दिल्ली एयरपोर्ट से दोनों को हिरासत में लिया गया। नोएडा पुलिस के द्वारा दोनों को गौतमबुद्ध नगर जिला न्यायालय में पेश किया जाएगा। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। स्क्रैप माफिया रवि काना ने पुलिस सुरक्षा में रहते हुए काफी बड़े अपराध किया। इस समय रवि के खिलाफ 11 मुकदमे दर्ज हैं। 10 मुकदमे दर्ज होने तक तो रवि काना बाहुबली बनाकर घूमता रहा, लेकिन 11वां मुकदमा दर्ज होने के बाद रवि काना के उल्टे दिन शुरू हो गए रवि काना को गौतमबुद्ध नगर में स्क्रैप की दुनिया का बादशाह भी कहा जाता है।

दोनों कोर्ट में होंगे पेश

बताया जा रहा है कि पुलिस के द्वारा रवि काना और उसकी प्रेमिका काजल झा का रिमांड लेने के लिए न्यायालय में रिपोर्ट पेश की जाएगी। बताया जा रहा है कि पूछताछ के दौरान काफी अहम जानकारी पुलिस के हाथ लग सकती है। इसके अलावा उन लोगों के नाम भी सामने आएंगे, जो अधिकारी और सफेदपोश लोग स्क्रैप का धंधा चल रहे हैं। रवि काना और काजल झा को हिरासत में लेना नोएडा पुलिस की एक बड़ी कामयाबी है। मिली जानकारी के मुताबिक, रवि काना और उसकी प्रेमिका काजल झा को थाईलैंड से अरेस्ट किया गया। नोएडा में युवती के साथ गैंगरेप मामले में पुलिस बीते 1 जनवरी 2024 से रवि काना की तलाश कर रही थी। रवि काना को गिरफ्तार करने के लिए भारत में पुलिस ने सैकड़ों स्थानों पर दबिश दी थी। इसके बाद रवि काना की प्रेमिका पर पुलिस के शिकंजा कसा था। गैंगस्टर मामले में रवि काना के साथ उसकी प्रेमिका काजल झा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने रवि काना और उसकी प्रेमिका के साथ पत्नी समेत 16 के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया था।

500 पन्नों की चार्जशीट दाखिल

स्क्रैप माफिया रवि काना और उसके गैंग के खिलाफ 500 पन्नों की चार्जशीट नोएडा पुलिस ने गौतमबुद्ध नगर कोर्ट में दाखिल की हैं। नोएडा पुलिस ने चार्जशीट दाखिल करते हुए रवि काना को काले कारोबार का सरगना बताया है। इसके अलावा काजल झा को काले कारोबार में बराबर का हिस्सेदार बताया गया है। पुलिस ने काले कारोबार का पूरा चिट्ठा कोर्ट के सामने पेश किया है।

जानें कौन है रवि काना

रवि काना हरेंद्र प्रधान दादुपुर का छोटा भाई है। हरेंद्र प्रधान की हत्या वर्ष 2015 में सुंदर भाटी ने करवाई थी। हरेंद्र नागर हत्याकांड गौतमबुद्ध नगर के चर्चित हत्याकांड में शामिल है। हरेंद्र नागर की हत्या होने के बाद स्क्रैप और सरिया तस्करी का सारा काम रवि काना ने संभाल लिया। हरेंद्र प्रधान हत्याकांड के बाद रवि काना ने अपनी जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा मांगी और सरकार ने रवि काना को पुलिस सुरक्षा दी। सुरक्षा मिलने के बाद रवि ने इसका दुरुपयोग किया। रवि काना ने स्क्रैप माफिया और तस्करी के लिए पुलिस सुरक्षा का इस्तेमाल किया था। रवि के अलावा उसकी भाभी यानी कि हरेंद्र नागर की बीवी बेवन नागर और भाई राजकुमार नागर को भी पुलिस सुरक्षा मिली। हालांकि, रेप का मुकदमा दर्ज होने से करीब 6 महीने पहले रवि काना की पुलिस सुरक्षा हटा ली गई थी।