Lok Sabha Election Result: क्या अबसे मुस्लिमों को टिकट नहीं देगी बसपा ? हार के बाद मायावती ने दिए बड़े संकेत

168

Lok Sabha Election Result 2024: लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे सामने आ चुके हैं. इसमें भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में तगड़ा झटका लगा है. पार्टी की सीटें पिछली बार की तुलना में करीब आधी रह गई हैं. वहीं इंडिया गठबंधन ने शानदार प्रदर्शन किया है. इस चुनाव में बहुजन समाज पार्टी का प्रदर्शन भी काफी खराब रहा. पिछले आम चुनाव में 10 सीटें पाने वाली बसपा इसबार शून्य सीट पाई है. पार्टी की हार पर अब बसपा प्रमुख मायावती (Mayawati) की प्रतिक्रिया सामने आ रही है. उन्होंने मुसलमानों को टिकट देने को लेकर बड़ी बात कही है.

बसपा प्रमुख मायावती ने कहा, “इस बार चुनाव में अपनी पार्टी बीएसपी का अकेले ही, पार्टी से जुड़े लोगों के बलबूते पर बेहतर रिजल्ट के लिए जो संभव पूरा-पूरा प्रयास किया गया है, जिसमें खासकर दलित वर्ग में से मेरी खुद की जाति के लोगों ने अधिकांश अपना वोट बीएसपी को देकर जो अपनी अहम मिशनरी भूमिका निभाई है तो उनका भी मैं विशेषकर पूरे तेहदिल से आभार प्रकट करती हूं.”

बसपा प्रमुख ने कहा, “साथ ही बहुजन समाज पार्टी का खास अंग मुस्लिम समाज जो पिछले कई चुनावों में व इस बार भी लोकसभा उपचुनाव में उचित प्रतिनिधित्व देने के बावजूद भी बीएसपी को ठीक से नहीं समझ पा रहा है तो अब ऐसी स्थिति में आगे इनको काफी सोच समझ के ही चुनाव में पार्टी द्वारा मौका दिया जाएगा. ताकि आगे पार्टी को भविष्य में इस बार की तरह भयंकर नुकसान न हो, इन्हीं खास बातों के साथ ही अब मैं अपनी बात नहीं समाप्त करती हूं.”

उन्होंने कहा, “सात चरणों में हुए आम चुनाव, अब लगभघ ढाई महीने के लंबे समय के बाद, आज चुनाव परिणाम के साथ अपने समापन पर है जबकि हमारी पार्टी चुनाव आयोग से शुरू से ही यह मांग करती है कि चुनाव बहुत लंबा नहीं खिंचना चाहिए, बल्कि आम लोगों को हितों के साथ-साथ, चुनाव ड्यूटी में लगने वाले लाखों सरकारी कर्मचारियों और सुरक्षाकर्मियों आदि के व्यापक हित व सुरक्षा पर ध्यान रखते हुए तीन या चार चरणों में चुनाव कराया जाए.”

Loksabha Election Result 2024: लोकसभा चुनाव का परिणाम (Loksabha Election Result 2024) आ चुका है. किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है. हालांकि एनडीए गठबंधन ने बहुमत हासिल कर लिया है औऱ नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं. भाजपा ने लोकसभा चुनाव में कई केंद्रीय मंत्रियों को मैदान में उतारा था, जिसमें से कई नेताओं को जीत मिली है, जबकि कइयों को हार का स्वाद चखना पड़ा है. आइए आपको उन मंत्रियों के बारे में बताते हैं, जिन्हें जीत और हार मिली है.

अमेठी सीट: स्मृति ईरानी को अमेठी सीट से कांग्रेस उम्मीदवार किशोरी लाल शर्मा के हाथों हार का सामना करना पड़ा. उन्हें 1.6 लाख वोटों से हार मिली हैं.
तिरुवनंतपुरम सीट: केरल की इस सीट पर केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर को कांग्रेस के शशि थरूर से हार मिली. वह 16,077 से ज्यादा वोटों से हार गए.
खीरी सीट: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी को समाजवादी पार्टी के उत्कर्ष वर्मा के हाथों हार का स्वाद चखना पड़ा. वह 34 से ज्यादा वोटों से हारे.
बांकुरा सीट: शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष सरकार पश्चिम बंगाल की इस सीट पर तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार अरूप चक्रवर्ती से 32,778 वोटों के अंतर से हारे.
खूंटी सीट: केंद्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री और मौजूदा सांसद अर्जुन मुंडा झारखंड की इस सीट से हार गए. उन्हें 1.4 लाख वोटों से हार मिली.
बाड़मेर सीट: कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी को भी हार मिली है. वह इस सीट पर तीसरे स्थान पर रहे.
नीलगिरी सीट: केंद्रीय मंत्री एल मुरुगन को तमिलनाडु के नीलगिरी में डीएमके के ए राजा के हाथों 2,40,585 लाख वोटों से हार मिली.
कूचबिहार सीट: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक को कूच बिहार सीट पर हार मिली. वह टीएमसी उम्मीदवार के हाथों 39 हजार वोटों से हारे.
मुजफ्फरनगर सीट: केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान को इस सीट पर समाजवादी पार्टी के हरेंद्र सिंह मलिक से 24,000 से अधिक मतों से हार मिली.
बीदर सीट: केंद्रीय मंत्री भगवंत खूबा को बीदर में कर्नाटक के मंत्री ईश्वर खंड्रे के बेटे सागर खंड्रे ने हराया.
मोहनलालगंज सीट: आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री कौशल किशोर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार आर.के. से हार गए.
चंदौली सीट: केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पांडे को सपा के बीरेंद्र सिंह के हाथों हार मिली. उन्हें 21,565 वोटों से शिकस्त मिली.
भिवंडी लोकसभा सीट: महाराष्ट्र के भिवंडी में पंचायती राज राज्य मंत्री कपिल पाटिल को एनसीपी (शरद गुट) के सुरेश गोपीनाथ म्हात्रे ने हराया.
जालना सीट: जालना में कांग्रेस के कल्याण वैजनाथ राव काले ने बीजेपी नेता और रेल राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे को 109,958 वोटों के अंतर से हराया.
डिंडोरी सीट: एनसीपी (शरद गुट) के भास्कर भगारे ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री भारती पवार को 1,13,199 वोटों से हराकर जीत हासिल की.