Hathras Accident: हाथरस में सत्संग के दौरान बड़ा हादसा, 27 की मौत, सीएम योगी ने मांगी रिपोर्ट

168

Hathras Accident: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से बेहद दुखद खबर सामने आ रही है. यहां एक सत्संग सुनने पहुंचे 27 लोगों की भगदड़ मचने से मौत हो गई है. हादसे में 1 पुरूष, 3 बच्चे और 23 महिलाएं शामिल हैं. इसकी पुष्टि एटा के सीएमओ ने की है. जानकारी के अनुसार भोले बाबा के सत्संग में भगदड़ मच जाने के कारण यह हादसा हुआ है. वहीं इस हादसा का सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने संज्ञान लिया है. उन्होंने घायलों को समुचित इलाज के आदेश दे दिए हैं. साथ ही मुख्यमंत्री ने घटना पर मंत्री लक्ष्मी नारायण, मंत्री, संदीप सिंह,चीफ सेक्रेटरी एवं डीजीपी को मौक़े पर भेजा हैं.

जानकारी के अनुसार हाथरस के सिकंदराराऊ थानाक्षेत्र के फुलरई गांव में चल रहे भोले बाबा क़े सत्संग में भगदड़ मच गई. इस दौरान अनेकों श्रद्धालुओं की मौत हो गई. मृतकों की डेड बॉडी एटा मेडीकल कॉलेज पहुंचाई गई है. वहीं घायलों का इलाज चल रहा है.

वहीं मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी राजेश प्रताप सिंह ने कहा कि ये भोले बाबा के सत्संग में हाथरस जनपद क़े सिकंदराराऊ थाना क्षेत्र के फुलरई गाब में हादसा हुआ है. जिले के मुगलगढ़ी गांव में एक धार्मिक आयोजन चल रहा था, तभी भगदड़ मच गई. एटा अस्पताल में अब तक 27 शव आ चुके हैं, जिनमें 23 महिलाएं, 3 बच्चे और 1 पुरुष शामिल हैं. घायल अभी अस्पताल नहीं पहुंचे हैं. आगे की जांच की जा रही है. इन 27 शवों की पहचान की जा रही है.

सीएम योगी ने घटना का लिया संज्ञान

सीएम योगी ने हाथरस में हुए हादसे में मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. साथ ही घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है. उन्होंने कहा कि जनपद हाथरस की दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में हुई जनहानि अत्यंत दुःखद एवं हृदय विदारक है. मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं. संबंधित अधिकारियों को राहत एवं बचाव कार्यों के युद्ध स्तर पर संचालन और घायलों के समुचित उपचार हेतु निर्देश दिए हैं. उत्तर प्रदेश सरकार में मा. मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण चौधरी जी, श्री संदीप सिंह जी घटना स्थल के लिए रवाना हो चुके हैं तथा प्रदेश के मुख्य सचिव व पुलिस महानिदेशक को घटना स्थल पर पहुंचने हेतु निर्देशित किया है. ADG, आगरा और कमिश्नर, अलीगढ़ के नेतृत्व में टीम गठित कर दुर्घटना के कारणों की जांच के निर्देश भी दिए हैं. प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान तथा घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें.