भारत सरकार की कंपनी के लिए 2 डाटा सेंटर स्थापित करेगी CIPL, 137 करोड़ रुपए का हुआ अनुबंध

60

उत्तर प्रदेश के नोएडा स्थित कॉरपोरेट इन्फोटेक प्राइवेट लिमिटेड (CIPL) ने भारत सरकार की कंपनी सिक्योरिटी प्रिंटिंग और मिंटिंग कॉर्प से 137 करोड़ रुपये का अनुबंध किया है। इस करार के तहत सीआईपीएल नोएडा और हैदराबाद में दो डाटा सेंटर (Two Data Centers) की स्थापना करेगी।

इस संबंध में टेक्नोलॉजी सोल्यूशन कंपनी सीआईपीएल ने सोमवार को जारी एक बयान में कहा कि उसने दो डेटा केंद्र स्थापित करने के लिए भारत सरकार की स्वामित्व वाली सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड मिंटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसपीएमसीआईएल) के साथ 137 करोड़ रुपये के समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

Also Read: रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने की घोषणा, कहा- गणेश चतुर्थी को लॉन्च होगा ‘जियो एयर फाइबर’

कॉरपोरेट इन्फोटेक प्राइवेट लिमिटेड और सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड मिंटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसपीएमसीआईएल) के साथ ‘PRAGAMAN’ नामक एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। इस समझौते के तहत सीआईपीएल के द्वारा नोएडा और हैदराबाद में दो डेटा सेंटर स्थापित किए जाएंगे।

सीआईपीएल ने अपने बयान में कहा कि ये दो डेटा सेंटर जिसमें एक प्राइमरी और दूसरा डिजास्टर रिकवरी डेटा सेंटर शामिल है। लेटेस्ट तकनीक पर आधारित इस डेटा सेंटर की स्थापना से एसपीएमसीआईएल की कार्य दक्षता, स्पीड और एक्यूरेसी के मामले में पहले से बहुत बेहतर होगी।

Also Read: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ब्रिटेन की व्यापार मंत्री से की मुलाकात, निवेश व एफटीए पर चर्चा

भारत सरकार की स्वामित्व वाली कंपनी एसपीएमसीआईएल में बैंक करेंसी नोट, सिक्यूरिटी पेपर, गैर-न्यायिक स्टांप पेपर, डाक टिकट और सिक्कों का निर्माण किया जाता है। इस ऐतिहासिक अनुबंध के साइन होने के मौके पर सीआईपीएल ने कहा कि कंपनी ने पिछले 15 वर्षों में केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकारों और सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों की कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं को जिम्मेदारी से पूरा किया है।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )