श्रावस्ती में राप्ती नदी कर रही मुहाने पर कटान:लोग अपने ही हाथों से तोड़ रहे अपने आशियाने

44

श्रावस्ती में राप्ती नदी इन दिनों तटवर्ती गांवों में किनारे पर कटान कर रही है। जिसके चलते लोग अपने ही हाथों से ही अपना आशियाना बचाने के लिए उजाड़ रहे हैं।

पूर्व में भी कई मकान राप्ती नदी की धारा में कटकर समाहित हो चुके हैं। वहीं प्रशासन लगातार कटान रोकने के लिए कार्य कर रहा है। लेकिन नदी की कटान है। जो रुकने का नाम नहीं ले रही। जिसके चलते इस गांव के लोग नदी के कटान से अक्सर प्रभावित होते हैं।

कई मकान राप्ती नदी में अपने आप भी गिरकर समाहित

तहसील जमुनहा क्षेत्र का अशरफ नगर गांव नदी के मुहाने पर बसा हुआ है। जिसके चलते इस गांव के किनारे बने मकानों को बचाने के लिए ग्रामीणों ने पहले भी अपने आशियाने तोड़ लिए हैं। वहीं कई मकान राप्ती नदी में अपने आप भी गिरकर समाहित हो चुके हैं। वही इन दिनों राप्ती नदी कटान कर रही है। जिसको देखकर अब ग्रामीण फिर से अपने आशियाने को उजाड़ रहे हैं। ताकि नदी की कटान से आशियाने को बचाया जा सके।

नदी के मुहाने पर बसे गांव के लिए हर बार मुसीबत खड़ी

राप्ती नदी की कटान से बचाने को लेकर प्रशासन हर बार कई प्रकार के उपाय भी करता है। लेकिन राप्ती नदी की तेज धारा नदी के मुहाने पर बसे गांव के लिए हर बार मुसीबत खड़ी कर देती है। जो गांव राप्ती नदी के मुहाने पर बसे हुए हैं। वहां के लोगों के लिए सबसे बड़ी परेशानी कटान साबित हो रही है। क्योंकि जब कटान शुरू होती है, तो उसके रास्ते में जो भी आता है। वह उसे अपने धारा में बहा ले जाती है। इसलिए सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए ग्रामीण खुद ही अपने आशियाने को अपने हाथों से तोड़ रहे हैं।