Watch Video: हद है… खूंखार तेंदुए को गांव के लोगों ने बनाया ‘बकरी’, सेल्फी ली, रील्स भी बनाई

315

Viral Video: इंदौर के देवास में कुछ ग्रामीणों ने एक खूंखार तेंदुए को मजाक का पात्र बना दिया। लोगों ने उसके साथ बकरी की तरह व्यवहार किया। 

Viral Video: मध्य प्रदेश के इंदौर जिले से एक हैदार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां के एक जंगल क्षेत्र में कुछ लोगों का खूंखार तेंदुए के साथ घूमते, फोटो खिंचाते और रील्स बनाने देखा गया है। तेंदुआ भी लोगों से प्रति कोई खास प्रतिक्रिया नहीं कर रहा है। जब ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल (Viral Video) हुआ तो वन विभाग की टीम सक्रिय हो गई। जब इस पूरे मामले की जांच की गई तो चौंकाने वाली बात सामने आई। टीम ने तेंदुए को बचाया है।

इस हाल में दिखा तेंदुए

जानकारी के मुताबिक इंदौर के देवास में कुछ ग्रामीणों ने एक खूंखार तेंदुए को मजाक का पात्र बना दिया। लोगों ने उसके साथ बकरी की तरह व्यवहार किया। उस पर बैठकर सवारी करने की कोशिश की। बताया गया है कि तेंदुआ मंगलवार शाम को जिला मुख्यालय से करीब 50 किमी और इंदौर से 95 किमी दूर इकलेरा गांव में कहीं से भटक कर आ गया। वीडियो फुटेज में देखा गया है कि तेंदुआ धीरे-धीरे चल रहा है, क्योंकि कई लोग उसके साथ चल रहे हैं।

लोग बोले- इसे गांव ले चलो

सोशल मीडिया पर आए वीडियो में सुना जा सकता है कि भीड़ में कुछ लोग तेंदुए को छेड़ने से मना भी कर रहे हैं, लेकिन लोग नहीं मान रहे हैं। उनमें से कुछ को यह कहते हुए भी सुना जाता है कि चलो इसे गांव ले चलें। बाकी लोग मना कर देते हैं और उसे वापस जंगल में ले जाने का प्रयास करते हैं। इसी बीच कई ग्रामीणों ने तेंदुए के साथ सेल्फी ली। एक ने उसकी पीठ पर चढ़ने की भी कोशिश की, लेकिन सुस्त तेंदुआ धीरे-धीरे वापस जंगल में चला गया। कुछ ग्रामीणों ने वन विभाग और पुलिस को इस पूरे प्रकरण की सूचना दी।

इंदौर चिड़ियाघर में चल रहा है तेंदुए का इलाज

देवास वन एसडीओ संतोष शुक्ला ने मीडिया को बताया कि देवास और उज्जैन की वन टीमों ने मंगलवार रात को तेंदुए को बचाने के लिए एक टीम को लगाया। उन्होंने कहा कि अधिसूचित जंगल से होकर बहने वाली कालीसिंध नदी के पास तेंदुए और अन्य जंगली जानवरों की आवाजाही असामान्य नहीं है। पशुचिकित्सकों ने तुरंत तेंदुए की जांच की। जांच में पता चला है कि तेंदुए में ऊर्जा की कमी थी। उन्होंने कहा कि हमने तेंदुए को इलाज के लिए इंदौर चिड़ियाघर में शिफ्ट किया है। गनीमत है कि तेंदुए को कोई चोट नहीं आई है।