घुस लेने में महारथ हासिल करने वाली निडर और निर्भीक थानाध्यक्ष कंचन राय का हुआ स्थानांतरण

1189

मालदार मामले को खुद कमान सम्भालती थी महिला थानाध्यक्ष कंचन राय।

रिपोर्ट: हेमंत कुमार दुबे

महराजगंज। जनपद में लगातार हो रहे पुलिस कर्मियों के तबादला एक्सप्रेस में बीती देर रात सिंदुरिया थानाध्यक्ष कंचन राय का भी नाम शामिल हैं।जिन्हें स्थानांतरण करते हुए पुनः एक बार फिर महिला थाने का कमान सौप दिया गया हैं।वही महिला थाने का कमान संभाल रही महिला उप निरीक्षक मनीषा सिंह को सिंदुरिया थाने का थानाध्यक्ष बनाया गया हैं।

विवादों में घिरने के बाद हुआ स्थानांतरण!

विवादों में कई बार घिरे रहने वाली कंचन राय का रुतवा सिंदुरिया थाने पर उस समय देखने को मिला जब विश्वनाथपुर उर्फ पड़वनियाँ में एक परिवार के महिलाओं और पुरुषों को फिल्मी स्टाइल में जमकर पिटाई का आरोप लगा था महिला का आरोप था कि महिला थानाध्यक्ष कंचन राय ने हमारे दोनो हाथो को महिला सिपाहियों से पकड़वाकर फिल्मी स्टाइल में बेल्ट से पिटाई की थी।

क्या महिलाएं अपराधी प्रवृत की थी।

महिला थानाध्यक्ष द्वारा की गई बेरहमी से पिटाई मात्र एक जमीनी विवाद था पीड़ित महिलाओं में से कुछ ऐसी भी महिलाएं थी जो अभी तक घर के चौखट को भी नही लांघ पायी हैं।बावजूद थानाध्यक्ष कंचन राय को वर्दी के गुगुर पैसे की गर्मी ने इतना गर्म कर दिया कि अपने आप को फिल्मी सिंघम बनकर जमकर बेल्ट से पिटाई कर डाली।

मालदार मामले को खुद सम्भालती थी थानाध्यक्ष कंचन राय

थानाध्यक्ष कंचन राय कमाऊदार बेटे की गिनती में गिनी जाती हैं जहां भी रही हैं खुलकर मोटी कमाई करती हैं।इनका मांग पचास हजार से शुरू होता हैं आगे जितने में मामला सुलझ जाए।

महिलाओं के पिटाई के मामलों में सदर विधायक ने मिला पुलिस अधीक्षक से।

थानाध्यक्ष कंचन राय द्वारा महिलाओं को बेरहमी से पिटाई के मामले को लेकर सदर विधायक जय मंगल कनौजिया ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर कार्यवाही का मांग किया हैं जिसमे पुलिस अधीक्षक डॉक्टर कौस्तुभ ने दो दिन का समय मांगा हैं।

विज्ञापन बॉक्स