Hindi Diwas: इन कलाकारों ने हिंदी भाषा के साथ लहराया सफलता का परचम, आशुतोष राणा से लेकर मनोज बाजपेई तक लिस्ट में शामिल

314

आज 14 सितंबर के दिन देश में हिंदी दिवस मनाया जाता है। आज के समय में जब हर कोई इंग्लिश में बात करना चाहता है पर इसके बाद भी कुछ लोग ऐसे हैं जिन्होने अपनी जिंदगी में आज भी हिंदी भाषा को ही अहमियत दे रखी है। क्या आप जानते हैं इन लोगों में कई बड़े नामी फिल्मी अभिनेताओं के नाम भी शामिल हैं। आज की खबर में हम आपको कुछ ऐसे ही अभिनेताओं के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने एक्टिंग में तो महारथ हासिल की है, उनकी हिंदी संवाद शैली का भी कोई तोड़ नहीं है।

अमिताभ बच्चन

अच्छी हिंदी बोलने वालों की सूची में सबसे पहला नाम आता है बॉलीवुड के दिग्गज नेता अमिताभ बच्चन का, हिंदी के प्रति उनका लगाव सभी जानते हैं। बिग बी को हिंदी बोलते सुनना किसी सुखद एहसास जैसा है। फिल्म के सेट पर हिंदी में लिखी पटकथा और संवाद को काफी महत्व देते हैं। वह जाने माने लेखक और कवि रहे हरिवंश राय बच्चन के पुत्र हैं, इसलिए उन्हें हिंदी कविताओं से लगाव भी ज्यादा है। उनके अधिकतर ट्विट्स भी हिंदी में होते हैं। कौन बनेगा करोड़पति के शो पर भी उन्हें कई बार अपने पिता की लिखी कविताओं को बोलते सुना गया है।

What is NFT explainer Amitabh Bachchan Debut from 1 nov know about his collections - Business News India - अमिताभ बच्चन करेंगे नए जमाने की नीलामी, समझें आखिर क्या है NFT


आशुतोष राणा

आशुतोष राणा इंडस्ट्री के प्रतिभाशाली कलाकारों में से एक हैं। वह अपने अभिनय कौशल के लिए जाने जाते हैं लेकिन, इसके साथ ही उन्हें हिंदी भाषा में महारथ हासिल है। उन्हें कई बार साहित्य संगोष्ठी के मंच पर हिंदी कविताएं बोलते सुना जा चुका है। उन्होंने कृष्ण के संवाद में रश्मिरथी का पाठ भी सुनाया है। फिल्मों में अधिकतर एंटी हीरो का रोल करने वाले आशुतोष की हिंदी वाकई में सुनने लायक होती है।

Ashutosh Rana talks about his role Aurangzeb web show Chhatrasal | फिर दिलचस्प अवतार में दिखेंगे आशुतोष राणा, हमेशा इन कहानियों पर हुए आकर्षित | Hindi News, Zee Hindustan Entertainment


अनुपम खेर

अनुपम खेर उन चुनिंदा अभिनेताओं में से हैं, जो हिंदी भाषा में बड़ी सरलता से संवाद बोलने के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने 400 से अधिक फिल्में की हैं। हर फिल्म में उनकी हिंदी भाषा में संवाद शैली कमाल की होती है।

Anupam Kher wept while telling what happened to Kashmiri Hindu 32 years ago | The Kashmir Files: 32 साल पहले क्या हुआ था कश्मीरी हिंदू के साथ जिसे बताते हुए अनुपम खेर


पंकज त्रिपाठी

पंकज त्रिपाठी भी इंड्स्ट्री के मंझे कलाकारों में आते हैं। उनकी हिंदी संवाद शैली गजब की है। वह हिंदी मीडियम से ही पढ़े लिखे हैं और उनकी डायलॉग डिलीवरी भी हिंदी में होती है। इसका श्रेय हिंदी भाषा को लेकर उनके पैशन को जाता है। वह हमेशा हिंदी के ही शो और फिल्में करते हैं। इसका कारण उन्होंने बताया था कि वह इस भाषा में काफी सहज महसूस करते हैं। हिंदी पर उनकी पकड़ इतनी मजबूत है कि शकीला की शूटिंग के दौरान निर्देशक इंद्रजीत लंकेश तक उनसे हिंदी में संवाद करते थे ताकि उन्हें सुन सकें और अपनी हिंदी में सुधार कर सकें।

ट्रैक्टर के अभाव ने पंकज त्रिपाठी को बना दिया एक्टर, एनएसडी से तीन बार झेलना पड़ा था रिजेक्शन | Jansatta


मनोज बाजपेयी

बहुतायत फिल्मों में अपनी छाप छोड़ने वाले मनोज बाजपेयी का हिंदी भाषा से गहरा नाता है। दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाले ‘स्वाभिमान’ से फिल्मों और अब वेब सीरीज में अपनी अदायगी का लोहा मनवा चुके हैं। लेकिन, यह सफर आसान नहीं था। उन्होंने कई इंटरव्यू में बताया है कि अपने संघर्ष के दिनों में रश्मिरथी सुनकर वह खुद का मन बहलाते थे। उन्हें कई मंच पर रश्मिरथी बोलते हुए भी सुना जा सकता है।

The Family Man 2 Actor Manoj Bajpayee Love Life Interesting Facts | ऐसी है Manoj Bajpayee की लव लाइफ, पहली पत्नी से 2 महीने में हुआ तलाक तो 7 साल बाद मुस्लिम

Also Read : बॉलीवुड सितारों पर फिर बरसे प्रकाश झा, बोले- फिल्म स्टार्स अब बेचते हैं पान-गुटखा, फुरसत में बनाते हैं वाहियात फिल्म


दुनिया प्रदेश की ताजा तरीन खबरें और रोचक जानकारीयों के लिए जुडिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से..लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज अपने व्हाट्सएप पर पायें…

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )