यदि कोल्ड ड्रिंक पीना किया बंद तो कुछ ही दिनों में कम हो सकती है पेट की चर्बी, शोध में खुलासा

434

लाइफस्टाइलदुनिया में अधिकतर लोग मोटापे की समस्या से परेशान रहते हैं. वह अक्सर जिम और फिटनेस सेंटर जॉइन भी कर लेते हैं जिससे उनका शरीर मैंटेन रहे लेकिन वो इन चीजों से जल्दी लाभ न होने के कारण जिम करना ही छोड़ देते हैं. एक शोध के अनुसार यह पता चला है कि प्राय मोटापे के शिकार ऐसे ही लोग होते हैं, जो चीनी युक्त पेय पदार्थ का सेवन ज्यादातर करते हैं. हमारे शरीर के पेट, कमर और शरीर के निचले हिस्से में ज्यादातर बॉडी फैट बढ़ता है.

एक शोध के अध्ययन से पता चला है की जिन लोगों ने शक्कर वाले पेय पदार्थों को कम किया है उसके इंसुलिन प्रतिरोध में सुधार हुआ है. JAMA इंटरनल मेडिसिन में सोमवार को प्रकाशित नए शोध में कहा गया है कि शुगर ड्रिंक्स बिक्री पर प्रतिबंध लगाने से पेय पदार्थों की खपत कम हो सकती है और कर्मचारी स्वास्थ्य में सुधार कर सकते हैं. कम से कम नौ अन्य कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय परिसरों ने कहा है कि वे चीनी पेय की बिक्री को कम करने और पानी की खपत को बढ़ावा देने के लिए इसी तरह की पहल करने जा रहे हैं.

Image result for cold drink





Also Read: तांबे के बर्तन में पानी पीने से होते हैं यह अद्भुत लाभ, फायदे जानकार आप भी शुरू कर देंगे इस्तेमाल

कोल्ड ड्रिंक और सॉफ्ट ड्रिंक जैसे पेय पदार्थों को पीने से उसमे जमा कैलोरीज हमारे शरीर की चर्बी को काफी मात्रा में बढ़ा देती है. स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि अमेरिकियों ने चापलूसी की है क्योंकि वे सभी प्रकार की बहुत अधिक कैलोरी का उपभोग कर रहे हैं. हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के अनुसार स्पोर्ट्स ड्रिंक, फ्रूट पंच, सोडा और अन्य मीठे पेय कैलोरी का सबसे बड़ा स्रोत है और अमेरिकी आहार में चीनी और मोटापा महामारी के लिए जिम्मेदार है. आलोचकों का कहना है कि पिछले 16 वर्षों में अमेरिका में चीनी-मीठे पेय पदार्थों के सेवन के बावजूद भी मोटापे की दर में वृद्धि जारी है.

Also Read: तिलक लगाने से मन ही नहीं तन का भी होता है विकास, मिलती है पॉजीटिव एनर्जी

Also Read: गर्म पानी का सेवन वजन कम करने के साथ इन बीमारियों में भी है रामबाण, फायदे जानकर रह जायेंगे हैरान




दुनिया प्रदेश की ताजा तरीन खबरें और रोचक जानकारीयों के लिए जुडिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से..लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज अपने व्हाट्सएप पर पायें…

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )