मुंबई – लोकल ट्रेन में सफर करने वाली महिला यात्रियों के लिए रेलवे का अहम फैसला

160

रेलवे के इस फैसले से महिलाओ को काफी राहत मिलेगी

मुंबई लोकल को मुंबई की जीवन रेखा कहा जाता है।यहां रोजाना सुबह-शाम भीड़ रहती है। अक्सर सुबह ऑफिस टाइम के दौरान ट्रेन में चढ़ने तक की जगह नहीं होती और अगर जगह मिल भी जाए तो किसी तरह भीड़ में खड़ा होना पड़ता है। इसी तरह अगर आपको किसी मीटिंग या ऑफिस में जाना है तो भी आपको ट्रेन से उतरने के बाद कपड़े बदलने के मौके भी नही मिलते। इसलिए रेलवे प्रशासन ने महिला यात्रियों के लिए एक राहत भरा फैसला लिया है। (Central Railways to open makeup room for women passengers traveling in local trains)

7 स्टेशनों पर महिला पावडर रुम

सेंट्रल रेलवे ने महिलाओं की सुविधाओं के लिए 7 स्टेशनों पर महिला पावडर रुम शुरू करने का फैसला किया है। इस रूम में महिलाएं मेकअप के अलावा मेकअप या तैयार होने के अलावा मेकअप से जुड़ा सामान भी खरीद सकेंगी। महिलाओं के लिए शौचालय, वॉशबेसिन, दर्पण, ड्रेसिंग टेबल जैसी सुविधाएं उपलब्ध होगा। महिलाएं महज 10 रुपये में इस सुविधा का लाभ उठा सकती हैं। रेलवे ने महिलाओं के लिए पूरे साल का प्लान भी तैयार किया है। 365 रुपये देकर पूरे साल के लिए रूम सब्सक्रिप्शन खरीद सकते हैं। फिलहाल यह सुविधा लोकमान्य तिलक टर्मिनस, घाटकोपर, मुलुंड, ठाणे, मानखुर्द और चेंबूर स्टेशनों पर उपलब्ध है।

इस बीच रेलवे ने सात स्टेशनों पर ये ब्यूटी पार्लर खोलने का फैसला किया है। शौचालय, कॉफी शॉप के साथ-साथ महिलाओं को एक ही छत के नीचे बच्चों के लिए अलग डायपर बदलने और स्तनपान कराने की सुविधा भी उपलब्ध होगी। महिला यात्रियों को मुफ्त वाई-फाई, सुरक्षा के लिए सीसीटीवी और शहर में अन्य ब्यूटी सैलून खोजने के लिए एक ऐप जैसी सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

प्रत्येक स्टेशन पर संबंधित को 200 वर्ग फीट की जगह उपलब्ध कराई जाएगी, जिससे स्टेशन पर यात्रियों को कोई परेशानी नहीं होगी।महिला सौंदर्य प्रसाधनगृह के लिए पांच साल का अनुबंध किया गया है। ऐसे आदेश संबंधित ठेकेदार को दिये गये है। रेलवे अधिकारियों ने कहा है कि दो महीने के अंदर ब्यूटी सैलून लगाना अनिवार्य होगा।

लोकल ट्रेन से रोजाना लाखों महिला यात्री सफर करती हैं। इन महिलाओं की सुविधा के लिए रेलवे पाउडर रूम की सुविधा शुरू कर रही है। यह सुविधा अक्सर मॉल में उपलब्ध होती है।

मॉल में तैयार होने जाती हैं महिलाएं

स्टेशन परिसर में पर्याप्त सुविधाएं न होने के कारण कई बार महिलाओं को करीब के मॉल में जाना पड़ता है। लेकिन अब महिलाओं को कपड़े बदलने और तैयार होने के लिए स्टेशन परिसर में ही स्वच्छ रूम की सुविधा मिलेगी। रूम के शौचालय इस्तेमाल करने की अनुमति केवल महिलाओं को होगी। हालांकि वहां की दुकानों पर खरीदारी पुरुष भी कर सकेंगे। वहीं महिला यात्री के साथ होने पर उन्हें टेरिस एरिया में बैठने की अनुमति होगी।

बढ़ेगी रेलवे की कमाई

महिला पाउडर रूम के माध्यम से रेलवे ने यात्रियों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के साथ ही कमाई का भी रास्ता तलाश लिया है। रूम के रख-रखाव और संचालन का जिम्मा लाइसेंस धारी संस्थान के पास होगा। रेलवे के अनुसार, इस पहल से 5 वर्ष तक प्रति वर्ष 39.48 लाख रुपये राजस्व के रूप में मिलने की उम्मीद है। महिला यात्रियों के पास मौजूदा शौचालय के साथ ही विशेष रूम का भी विकल्प होगा। यात्री अपनी सुविधा का चयन कर सकते हैं। रूम में महिलाओं के स्वच्छता उत्पाद, सौंदर्य प्रसाधन उत्पाद, उपहार सामग्री समेत अन्य की एमआरपी के अनुसार बिक्री की अनुमति होगी। वहीं खाद्य पदार्थ की बिक्री और वितरण की अनुमति नहीं होगी।