श्रावस्ती: महिलाओं को समाज में बराबरी का अधिकार देना हम सबका है दायित्व-मुख्य विकास अधिकारी

64

मुख्यमंत्री जी ने लोक भवन, लखनऊ से ’’मिशन शक्ति फेज-4’’ अभियान का किया शुभारंभ, बेहतर कार्य के लिए महिलाओं को किया सम्मानित
श्रावस्ती। महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान और स्वावलम्बी बनाने के उद्देश्य से प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने नवरात्रि के एक दिन पूर्व लोक भवन, लखनऊ से मिशन शक्ति फेज-4 विशेष अभियान का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर मा0 मुख्यमंत्री एवं मंत्री, महिला कल्याण एवं बाल विकास विभाग, श्रीमती बेबी रानी मौर्या द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को अंग वस्त्र एवं मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया।उक्त कार्यक्रम के तहत जिले में  विधायक रामफेरन पाण्डेय, जिलाधिकारी कृतिका शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी अनुभव सिंह एवं अपर जिलाधिकारी अमरेन्द्र कुमार वर्मा ने ’’मिशन शक्ति फेज-4’’ महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं नारी स्वावलंबन अभियान का शुभारम्भ किया। इस दौरान मा0 मुख्यमंत्री जी के सजीव प्रसारण को भी देखा व सुना गया। इस अभियान के अन्तर्गत जनपद के समस्त तहसीलो, ब्लाकों, पंचायतों, शहरी निकायों व थानों के माध्यम से महिलाओं एवं बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनने का प्रशिक्षण, सुरक्षा एवं सम्मान के प्रति जागरूकता प्रदान किया जाएगा।इस अवसर पर माननीय विधायक ने कहा कि देश एवं प्रदेश सरकार महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बी बनाने हेतु प्रतिबद्ध है। महिलाओं के प्रति अपराधों को नियंत्रित करने के लिए इस कार्यक्रम की शुरूआत की गयी है। इस अभियान के तहत महिलाओं के प्रति हो रहे अपराध को नियंत्रित करने के लिए जीरो टालरेंस पर कार्य करके उन्हें न्याय दिलाया जा रहा है। जिससे वे समाज में कदम से कदम मिलाकर चल सके और सफलता की उंचाईयों को प्राप्त कर सके।कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि नारी के सम्मान से ही देश का गौरव बढेगा। उन्होने कहा कि लोगो में जो लड़का और लड़की में असमानता की भावना है, उस भावना को समाप्त करने के लिए लोगों को जागरूक करना होगा। और यह बताना होगा कि बेटिया भी बेटों से किसी भी क्षेत्र में पीछे नही है, उन्हें बिना भेदभाव के शिक्षित कर आगे बढ़ाने की जरूरत है। उन्होने कहा कि जिले में बाल विवाह का प्रचलन है, जो चिंता का विषय है। इसलिए जनपद वासियों को यह भी संकल्प लेना होगा कि हम अपनी बेटियों का बाल विवाह नही करेगे। और बिना भेदभाव के शिक्षित करके उन्हे आगे बढ़ायेगे और बेटियों और महिलाओं का सम्मान करेगे। यह अभियान जनपद के सभी ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में, स्थानीय निकाय, मलिन बस्तियों में रहने वाले लोगों, श्रमिकों, किसानों आदि सभी वर्गों के लोगों को महिलाओे का सम्मान और उनकी सुरक्षा के प्रति लोगो को सजग रहने के लिए जागरूक किया जायेगा।
कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि महिलाओं को समाज में बराबरी का अधिकार देना हम सब का दायित्व है। इसलिए सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत जनपद की महिलाओं से सम्पर्क कर उन्हंे जागरूक कर उनके अधिकारों के बारे में बताया जायेगा। साथ ही महिलाओं व बालिकाओं को सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं की भी जानकारी दी जायेंगी।इस अवसर पर पूर्व जिलाध्यक्ष महेश मिश्रा ओम, उप निदेशक कृषि कमल कटियार, डी0सी0 एन0आर0एल0एम0 राजीव कुमार, जिला प्रोबेशन अधिकारी सुबोध कुमार सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक मिथलेश कुमार,  ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर शरद श्रीवास्तव, नाजिर अनूप तिवारी, महिला कल्याण अधिकारी सरिता मिश्रा, संरक्षण अधिकारी मिथलेश सिंह, विनय कुमार तिवारी, सहित आंगनवाड़ी कार्यकत्रियां एवं स्वयं सहायता समूहों के महिलायें उपस्थिति रही।मिशन शक्ति-4 अभियान के तहत महिला थाना से ’’महिला सशक्तीकरण रैली’’ निकाली गई, जिसे मा0 विधायक भिनगा इंद्राणी वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक प्राची सिंह ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। यह रैली महिला थाना से प्रारम्भ होकर ईदगाह तिराहा होते हुए वृद्धाश्रम भिनगा तक निकाली गई।
इस दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0पी0 सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक प्रवीण कुमार यादव, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद भिनगा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारीगण, स्कूली छात्राएं एवं पुलिस कर्मीगण उपस्थित रहे।