श्रावस्ती: जिलाधिकारी ने ताबड़तोड़ कई निर्माणाधीन विकास कार्यो का किया आकस्मिक निरीक्षण

78

श्रावस्ती। सोमवार को सायंकाल जिलाधिकारी कृतिका शर्मा ने ताबड़तोड़ कई निर्माणाधीन विकास कार्यो का किया औचक निरीक्षण कर जायजा लिया। विकास खण्ड इकौना के अन्तर्गत गोड़ारी में निर्माणाधीन अग्निशमन केन्द्र, आवासीय एवं अनावासीय भवनों का आकस्मिक निरीक्षण कर जायजा लिया। इस दौरान ज्ञात हुआ कि अग्निशमन केन्द्र के निर्माण कार्यो में मुख्य भवन के स्ट्रक्चर कार्य पूर्ण हो चुका है तथा फिनिशिंग का कार्य प्रगति पर है। टाइप-बी के 24 नग भवनों में प्लिन्थ स्तर तक कार्य पूर्ण कर लिया गया। टाइप-ए के 02 नग भवनों में प्लिन्थ तक कार्य पूर्ण तथा स्लैब का कार्य प्रगति पर है। इसके अलावा बाह्य विकास कार्यो के अन्तर्गत बाउण्ड्रीवाल कार्य, स्थल परिसर में मिट्टी भराई का कार्य तथा शिरोपरि जलाशय, अण्डर ग्राउण्ड वाटर टैंक कार्य, डीप ट्यूबवेल बोरिंग का कार्य प्रगति पर है। किन्तु कार्य शिथिल गति किया जा रहा है। कार्य की शिथिल गति पाये जाने पर जिलाधिकारी ने अवर अभियंता को कड़ी फटकार लगायी और कार्य में तेजी लाकर निर्माणाधीन अवशेष कार्यो में तेजी से कराकर नक्शे एवं मानक के अनुरूप गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण कराने का निर्देश दिया है।
इसके अलावा जिलाधिकारी ने कैम्पस के अन्दर लेवलिंग कार्य, रास्ता आदि को भी दुरूस्त कराने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि निर्माण कार्य पूरा होने बाद टेक्निकल टीम द्वारा जांच करायी जाएगी। यदि जांच के दौरान गुणवत्ता में कोई कमी पायी गई तो सम्बन्धित के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।
इस दौरान कार्यदायी संस्था के अधिशासी अभियंता अजीत कुमार चौधरी ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि कुल धनराशि के सापेक्ष दो चरणों में धनराशि प्राप्त हो चुकी है। सम्पूर्ण निर्माणाधीन कार्य को 06 माह के अन्दर पूर्ण करा लिया जाएगा।
तत्पश्चात् जिलाधिकारी ने विकास खण्ड इकौना के अन्तर्गत भिट्ठी में नवनिर्मित राजकीय इण्टर कॉलेज का भी आकस्मिक निरीक्षण कर जायजा लिया। यहां पर इण्टर कालेज का निर्माण कार्य पूरा तो हो गया है, किन्तु अभी भी कैम्पस में लेवलिंग से लेकर रास्ता एवं अन्य कार्य अधूरे मिलने पर भी उन्होने अधूरे कार्यो को पूरा करने हेतु सम्बन्धित अभियंता को पुनः निर्देशित किया है। उन्होने कहा कि मानक के अनुसार सभी अवशेष कार्यो को पूर्ण करा लिया जाए, ताकि जिला स्तरीय टास्क फोर्स से सत्यापन कराने के उपरान्त हस्तान्तरण की कार्यवाही की जा सके।
तदोपरान्त जिलाधिकारी ने कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय, इकौना के सामने निर्माणाधीन छात्रावास का आकस्मिक निरीक्षण कर जायजा लिया। इस दौरान जिलाधिकारी ने छात्रावास के समस्त कक्षों का भ्रमण कर बारीकी से निरीक्षण किया। यहां पर भवन का कार्य अन्तिम चरण में है, किन्तु अभी भी नक्शे के मुताबिक कई कार्य अधूरे है। इसके अलावा कैम्पस में समतलीकरण एवं रास्ते आदि कार्य के कार्य अधूरे है तथा कार्य की गति शिथिल पाये जाने पर कार्यदायी संस्था के अवर अभियंता को कड़ी फटकार लगाते हुए ढंग से कार्य करने की नसीहत देते हुए अधूरे कार्यो को तत्काल पूरा किये जाने का निर्देश दिया।उक्त अवसर पर उपजिलाधिकारी इकौना राम दत्तराम, मुख्य अग्निशमन अधिकारी प्रतीक श्रीवास्तव, जिला विद्यालय निरीक्षक मिथलेश कुमार, सहायक अभियंता स्वाती सिंह, अवर अभियंता नीरज, अवर अभियंता आदिल बेग सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।