श्रावस्ती: सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को प्रत्येक पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन है प्रतिबद्ध-जिलाधिकारी

66

श्रावस्ती। जिलाधिकारी कृतिका शर्मा की अध्यक्षता में सरकार की परिकल्पना को मूर्त रूप देने एवं जिले के हर पात्र व्यक्ति को सरकार की योजनाओं से लाभान्वित करने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट सभागार में समस्त विभागीय अधिकारियों के साथ सीएम डैशबोर्ड एवं विकास कार्यों एंव निर्माणाधीन विकास कार्यो की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। समीक्षा के दौरान समाज कल्याण, प्रोबेशन, दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग द्वारा संचालित पेंशन योजना तथा मत्स्य विभाग द्वारा संचालित योजनाओं में रैंकिंग बेहतर पायी गई। वहीं अन्य अवशेष विभागों की रैंकिंग संतोषजनक न पाये जाने पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि वे दायित्व बोध के साथ कार्य करके लक्ष्यों को पूरा करें, ताकि रैंकिंग में सुधार हो सके। उन्होने जोर देते हुए कहा कि पुनः समीक्षा के दौरान जिन उदासीन विभागीय अधिकारियों की रैंकिंग खराब होगी निश्चित ही उनके विरूद्ध अब कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं द्वारा जिले में जो भी निर्माणाधीन विकास कराये जा रहे है, से सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें, निर्माण कार्यो को समय-सीमा के अन्दर पूरा करायें। उन्होने कहा कि निर्माणाधीन विकास कार्यो के निर्माण कार्य प्रारम्भ होने से पूर्व जो शर्ते होती है, उनका अक्षरशः पालन करें, क्योंकि सभी निर्माण विकास कार्यो की तकनीकी टीम से जांच होगी। यदि जांच के दौरान कोई भी गुणवत्ता में कमी पायी गई तो सम्बन्धित कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों/अभियंताओं पर कार्यवाही होगी। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि जिले में विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं द्वारा जो निर्माणाधीन विकास कार्य कराये जा रहे है, कार्य स्थल पर कार्य प्रारम्भ होने की तिथि, कार्य पूरा करने की तिथि एवं लागत आदि का विवरण दर्ज कर साइनबोर्ड लगवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होने कहा कि जो निर्माण कार्य 90 प्रतिशत पूर्ण कर लिये गये है, उनमें मानव संसाधन बढ़ाकर शीघ्र कार्य पूरा कराकर हैण्डओवर की कार्यवाही की जाए। और जिन विकास कार्यो को पूरा कराने में धनराशि की कमी पड़ रही है, उसे नियमानुसार आगणन बनाकर शासन को भेजकर धनराशि आवंटन की कार्यवाही की जाए, ताकि अधूरे निर्माणाधीन विकास कार्यो को पूरा कराया जा सके।
जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन पारदर्शी एवं बेहतर ढंग से किया जाए, ताकि सरकार की योजनाओं से वंचित लोगों को जोड़ा जा सके और उनकी समस्याओं का भी बुनियादी समाधान हो सके। उन्होंने कहा कि सभी सम्बन्धित विभागीय अधिकारी सीएम डैशबोर्ड पर अपने विभाग की रैंकिंग में आपेक्षित सुधार लाएं और टीम भावना के साथ कार्य करके जनपद की रैंकिंग बढ़ाने में अपनी महती भूमिका निभायें। उन्होने यह भी कहा कि अब सीएम डैशबोर्ड पर विभिन्न विभागों द्वारा दर्शायी गई प्रगति रिपोर्ट की निरन्तर समीक्षा होगी। इस दौरान यदि किसी भी विभागीय अधिकारी की प्रगति में शिथिलता पायी गई तो निश्चित ही कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।
उन्होने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को प्रत्येक पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है। उन्होने कहा कि जनता के हित में सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से जोड़कर जन-जन को लाभान्वित किया जाए। प्रतिदिन सभी अधिकारी आई0जी0आर0एस0 और सीएम डैशबोर्ड पर अंकित प्रगति की स्वयं देखें। इस दौरान यदि उन्हें कोई भी समस्या या शिकायत लम्बित पायी जाती है तो तत्काल निराकरण भी सुनिश्चित करें। जिन विभागीय अधिकारियों के प्रगति के आंकड़ों में यदि अन्तर है तो वे अपने विभाग से सम्बन्धित उच्च अधिकारियों के संज्ञान में लाकर आंकड़ों को दुरूस्त करा लें। सीएम डैशबोर्ड की रैंकिंग पुनः अगले माह में जारी होगी। इसलिए इस माह में भी दस दिन शेष है। इस दस दिन में सभी सम्बन्धित विभागीय अधिकारी अपने-अपने विभाग की लम्बित शिकायतों को जरूर दूर कर दें, ताकि आने वाली माह की रैंकिंग में जिले को बेहतर स्थान मिल सके।बैठक का संचालन मुख्य विकास अधिकारी अनुभव सिंह ने किया।इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी रामसमुझ, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0पी0 सिंह, उप निदेशक कृषि कमल कटियार, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी अजय कुमार यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी नन्दलाल, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग एस0के0 हरित, अधिशासी अभियंता जल निगम एस0एसम0 असजद, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 मानव, डी0सी0 एन0आर0एल0एम0 राजीव कुमार, सहायक निदेशक मत्स्य सुरेश कुमार, जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी अभय प्रताप, जिला समाज कल्याण अधिकारी डा0 अमरनाथ यति, जिला विद्यालय निरीक्षक मिथलेश कुमार, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत सुभाष चन्द्र भारती, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी रोशन लाल पुष्कर, खण्ड शिक्षा अधिकारी सुनीता वर्मा, जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन राजकुमार त्रिपाठी, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर शरद श्रीवास्तव सहित अन्य तमाम विभागों के अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।