श्रावस्ती: जिलाधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भंगहा का आकस्मिक निरीक्षण कर लिया जायजा

93

अस्पताल परिसर में साफ-सफाई पर दिया जाए विशेष बल-जिलाधिकारी
प्रसव कक्ष एवं जच्चा-बच्चा वार्ड में मरीजों को कोई दिक्कत न हो, इसका रखा जाए ध्यान-जिलाधिकारी
श्रावस्ती। शुक्रवार को सायंकाल जिलाधिकारी कृतिका शर्मा ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भंगहा का आकस्मिक निरीक्षण कर जायजा लिया, निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने अस्पताल में मौजूद मरीजों से मिलकर उनका कुशलक्षेम जाना और डॉक्टर द्वारा मरीजों को दी जा रही चिकित्सीय सुविधा की भी जानकारी ली। इस दौरान जिलाधिकारी ने पंजीकरण काउंटर, दवा वितरण काउंटर, प्रसव कक्ष, एक्स-रे वार्ड, जनरल वार्ड, जननी सुरक्षा वार्ड, मुख्य औषधि भंडार, पी0आई0सी0यू0 वार्ड, बी0पी0एम0यू0 कक्ष, यू0आई0पी0 स्टोर, इमरजेंसी वार्ड, ओ0पी0डी0 मरीज पंजिका आदि का बारीकी से निरीक्षण कर जानकारी ली, और सभी व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरूस्त रखने का निर्देश दिया। इस दौरान जिलाधिकारी ने अस्पताल एवं परिसर में साफ-सफाई ढंग से न मिलने पर अधीक्षक को अस्पताल में हमेशा साफ-सफाई दुरुस्त रखने का निर्देश दिया।
उन्होने यह भी निर्देश दिया कि अभियान चलाकर परिवार नियोजन कार्यक्रमों पर विशेष बल दिया जाए। उन्होने कहा कि अस्पतालों में पुरूष महिला नसबन्दी, महिलाओं को प्रसव के बाद कापर टी, अंतरा इंजेक्शन, छाया टेबलेट, ओरल पिल्स, माला एन एवं निरोध भी मुफ्त दिया जा रहा है, जिसके प्रति लोगों को जागरूक किया जाए, ताकि जरूरतमन्द इसे अपनाकर अपना जीवन खुशहाल बना सकें।
जिलाधिकारी ने कहा कि मरीजों के साथ बेहतर व्यवहार कर उन्हें सरकार द्वारा प्रदत्त सभी सुविधाएं अनिवार्य रूप मुहैया कराई जाय। प्रसव के लिए आई महिलाओं की डिलवरी के बाद उनकी और उनके नवजात शिशुओं की बेहतर ढंग से देखभाल की जानी चाहिए, अगर लापरवाही की शिकायत मिली तो निश्चित ही कार्यवाही की जाएगी। उन्होने यह भी कहा कि प्रसव कक्ष एवं जच्चा-बच्चा वार्ड में मरीजों को कोई दिक्कत न होने पावे, इसका विशेष ध्यान रखा जाए, क्योंकि स्वास्थ्य सेवा में हीला-हवाली अब बर्दाश्त नही की जाएगी और लापरवाही बरतने पर चिकित्सक/पैरामेडिकल कर्मियो के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया है कि रोस्टर बनाकर सभी डिप्टी सी0एम0ओ0 सी0एच0सी0/पी0एच0सी0 का आकस्मिक निरीक्षण करते रहे और सभी व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरूस्त रखें और सी0एम0ओ0 स्वयं इसकी मानिटरिंग करके रिपोर्ट प्रस्तुत करें, ताकि अस्पताल में आये मरीजों को किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए इधर-उधर भटकना न पड़े।
इस अवसर पर कार्यदायी संस्था प्राविन्शियल को-आपरेटिव निर्माण एवं विकास लिमिटेड के महाप्रबन्धक रितेश सिंह, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्साधिकारी डा0 सत्य सरन सहित अन्य चिकित्सकगण एवं पैरामेडिकल कर्मीगण उपस्थित रहे।

विज्ञापन बॉक्स