मण्डलायुक्त की अध्यक्षता में कानून व्यवस्था एवं अभियोजन कार्याे तथा कर करेत्तर एवं राजस्व कार्यो की मंडलीय समीक्षा बैठक संपन्न

102

अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर रखी जाए व्यापक निगरानी-आयुक्त

श्रावस्ती। देवीपाटन मंडल गोण्डा के आयुक्त श्री योगेश्वर राम मिश्र की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में मंडल के अधिकारियों के साथ कानून व्यवस्था एवं अभियोजन कार्याे तथा कर करेत्तर एवं राजस्व वसूली/कार्यो की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक में कानून व्यवस्था की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने मंडल में गैंगस्टर, भू-माफिया को चिन्हित करते हुए कड़ी कार्रवाई की जाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि वन माफियाओं को चिन्हित किया जाए तथा उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होने जोर देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार शान्ति व्यवस्था बनाये रखने हेतु प्रतिबद्ध है। प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति अपनायी गई है, इसलिए मण्डल के सभी जनपदों में इसे प्रत्येक दशा में लागू किया जाए तथा अमन-चैन बनाये रखा जाए। उन्होने अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर भी व्यापक निगरानी हेतु सभी पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिये है। उन्होने यह भी कहा कि थानों में आने वाले हर फरियादियों की प्रत्येक दशा में जन शिकायतों को सूचीबद्ध कर उनका निराकरण भी नियमानुसार कराया जाना सुनिश्चित किया जाए।

आयुक्त महोदय ने कहा कि आगामी त्योहारों को सकुशल एवं शांतिपूर्वक संपन्न कार्य जाने हेतु सभी तैयारी कर ली जाएं। उन्होंने कहा की अभियान चलाकर आतिशबाजी की दुकानों का लाइसेंस चेक किए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा की मंडल में कही भी अवैध पटाखों की दुकान संचालित ना हो, यह सुनिश्चित किया जाए।

बैठक के दौरान आयुक्त ने विचाराधीन वादों की साक्षियों उपस्थिति/दर्ज किये जाने वाले बयानों की स्थिति, कुल पंजीकृत अपराध थानावार, आरोप पत्र दाखिला की स्थिति, अवशेष आरोप पत्र, सबसे पुराने विवेचनाओं का विवरण, मालों के विनष्टीकरण की स्थिति, सड़क सुरक्षा, रोहिंग्या का चिन्हीकरण, नो-मेन्स लैण्ड पर अतिक्रमण की स्थिति, महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध घटित अपराध के निस्तारण की प्रगति, गिरोहबन्द अधिनियम/गुण्डा अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही, आई0एस0आई0 गतिविधियों, भू-माफिया/वन माफिया/बालू माफिया के सम्बन्ध में कार्यवाही, पेशेवर/टॉप टेन अपराधियों को सजा दिलाये जाने के सम्बन्ध में, सरकारी भूमि पर धार्मिक निर्माण, गंभीर प्रकृति के वादों एवं उत्तर प्रदेश-नेपाल सीमा की प्रभावी सुरक्षा व्यवस्था हेतु ग्राम सुरक्षा समिति आदि की गहन समीक्षा की गई, तथा नियमानुसार कार्यवाही करने हेतु जिलाधिकारियों/पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिये गये।

बैठक में आयुक्त ने कर करेत्तर एवं राजस्व वसूली से जुडे समस्त विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि राजस्व वसूली में शिथिलता क्षम्य नही की जायेगी। इसलिए दिये गये लक्ष्यों के अनुरुप शत-प्रतिशत वसूली कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि राजस्व वसूली से जुड़े विभागीय अधिकारी वसूली के साथ-साथ सीएम डैशबोर्ड पोर्टल पर भी नजर रखें और प्रगति को अपडेट करें, जिससे इस जनपद की रैंकिंग और बढ़ सके। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि राजस्व वसूली से ही सरकार द्वारा तमाम जन कल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जाता है। इसलिए सभी जिलाधिकारीगण सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को प्राथमिकता के आधार पर राजस्व वसूली हेतु निर्देशित करें और लक्ष्यों की प्राप्ति सुनिश्चित करायें।

समीक्षा के दौरान वाणिज्यकर, स्टाम्प रजिस्ट्रेशन, आबकारी, बैंकों की देय वसूली, विद्युत देयों की वसूली, परिवहन, वन, अलौह खनन आदि की गहन समीक्षा की गई। इस दौरान जिन जनपदों के लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति कम पायी गई। सम्बन्धित जिलों के अपर जिलाधिकारियों एवं सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को आयुक्त ने कार्य में तेजी लाकर शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित कराने हेतु निर्देशित किया। इसके अलावा उन्होने मण्डल के सभी जिलाधिकारियों को भी निर्देश दिया है कि राजस्व वसूली की गहन समीक्षा करें, वसूली के दौरान जिन विभागों की वसूली कम पायी जाए, तो उनके विरूद्ध कार्यवाही भी अमल में लायी जाए। आयुक्त ने आबकारी, परिवहन, वन, विद्युत, खनन आदि विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया है कि निरंतर प्रवर्तन कार्य किया जाए तथा वसूली में तेजी लाएं।बैठक का संचालन देवीपाटन मण्डल के अपर आयुक्त प्रशासन राम प्रकाश ने किया।इस अवसर पर पुलिस उप महानिरीक्षक देवीपाटन मंडल गोण्डा अमरेंद्र प्रसाद सिंह, जिलाधिकारी श्रावस्ती कृतिका शर्मा, जिलाधिकारी गोंडा नेहा शर्मा, जिलाधिकारी बलरामपुर अरविंद सिंह, जिलाधिकारी बहराइच मोनिका रानी, पुलिस अधीक्षक क्रमशः गोण्डा अंकित मित्तल, श्रावस्ती प्राची सिंह, बलरामपुर केशव कुमार, बहराइच प्रशांत वर्मा, मुख्य राजस्व अधिकारी गोण्डा, अपर जिलाधिकारी क्रमशः गोण्डा सुरेश सोनी, श्रावस्ती अमरेन्द्र कुमार वर्मा, बहराइच गौरव रंजन, बलरामपुर प्रदीप कुमार सहित राजस्व, विद्युत, परिवहन, वाणिज्यकर, आबकारी, वन विभाग सहित वसूली से जुड़े सम्बन्धित विभागों के मण्डलीय एवं जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।