चालू वित्त वर्ष 2023-24 में भी एनसीएल का बेहतरीन प्रदर्शन जारी

64

अक्टूबर माह तक एनसीएल के उत्पादन में 7.3% व प्रेषण में 5.12 % की वार्षिक वृद्धि
अधिभार हटाव में भी कंपनी ने दर्ज की शानदार 14.2 % की वृद्धि
नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) ने वित्तीय वर्ष 2023-24 के अक्टूबर माह तक बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 80.15 मिलियन टन कोयला उत्पादन कर लिया है जो पिछले वित्तीय वर्ष की समान अवधि मे किए गए कोयला उत्पादन से लगभग 7.29 प्रतिशत अधिक है। पिछले वित्त वर्ष 2022-23 में अप्रैल से अक्टूबर तक की अवधि में एनसीएल ने 74.71 मिलियन टन कोयला उत्पादन किया था।
एक अन्य उपलब्धि में गत दिवस 31 अक्टूबर को एनसीएल ने एक दिन में 4 लाख 37 हजार टन कोयला उत्पादन कर वर्ष 2023-24 में एक दिन के सर्वाधिक कोयला उत्पादन का कीर्तिमान भी बनाया।

अपने ग्राहकों को भरपूर कोयला आपूर्ति करते हुए एनसीएल ने 2023-24 के अक्टूबर माह तक रिकॉर्ड कोयला प्रेषण किया है। कंपनी ने बिजली घरों सहित सभी ग्राहकों को 2023-24 के अक्टूबर माह तक 81.59 मिलियन टन कोयला प्रेषण किया है जो पिछले वित्तीय वर्ष की समान अवधि मे किए गए कोयला प्रेषण से 5.12 प्रतिशत अधिक है। पिछले वित्त वर्ष 2022-23 में अप्रैल से अक्टूबर तक की अवधि में एनसीएल ने 77.62 मिलियन टन कोयला प्रेषण किया था.

एनसीएल अपने प्रेषण का अधिकांश हिस्सा बिजली घरों को देता है। चालू वित्त वर्ष में एनसीएल ने अक्टूबर तक 72.18 मिलियन टन कोयला बिजली घरों को प्रेषित किया है।

अधिभार हटाव में भी एनसीएल बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है और वर्तमान वित्त वर्ष के अप्रैल से अक्टूबर माह तक लगभग 286.13 मिलियन क्यूबिक मीटर अधिभार हटाया है जो पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 14.02% अधिक है | यह उपलब्धि आने वाले समय में कोयला उत्पादन के लक्ष्य प्राप्ति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

गौरतलब है कि वित वर्ष 2023-24 में एनसीएल को 135 मिलियन टन कोयला उत्पादन व प्रेषण का लक्ष्य दिया गया है।
रिपोर्ट – दिनेश शर्मा