श्रावस्ती: केन्द्रीय नोडल अधिकारी ने संयुक्त जिला चिकित्सालय एवं परिसर में चल रहे निर्माणाधीन ए0एन0सी0/एन0आर0सी0 के कार्याे का आकस्मिक निरीक्षण कर लिया जायजा

63

अस्पताल परिसर में साफ-सफाई पर दिया जाए विशेष बल-संयुक्त सचिव
श्रावस्ती। केन्द्रीय नोडल अधिकारी/संयुक्त सचिव, भारत सरकार श्री धीरज साहू ने एक दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम हेतु जनपद के लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन पहुंचे। निरीक्षण भवन पहुंचने पर जिलाधिकारी कृतिका शर्मा एवं मुख्य विकास अधिकारी अनुभव सिंह ने अगुवानी कर स्वागत किया। तत्पश्चात् संयुक्त सचिव ने संयुक्त जिला चिकित्सालय पहुंचकर नीति आयोग द्वारा महत्वाकांक्षी जनपद रूपान्तरण कार्यक्रम के तहत परिसर में लोक निर्माण विभाग द्वारा कराये जा रहे ए0एन0सी0/एन0आर0सी0 निर्माण कार्याे का औचक निरीक्षण कर जायजा लिया। इस दौरान ज्ञात हुआ कि ए0एन0सी0 के छत का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है तथा प्लास्टर, वायरिंग, टाइल्स आदि का कार्य कराया जा रहा है, इसके अलावा कैम्पस में ही मॉडल एन0आर0सी0 निर्माण का कार्य किया जा रहा है, जिसमें वार्ड के साथ-साथ टायलेट, आपरेशन कक्ष के निर्माण का कार्य प्रगति पर है। स्लैब के निर्माण कार्य की कार्यवाही प्रारम्भ मिली। इस दौरान उन्होने निर्देशित किया नीति आयोग के तहत कराये जा रहे निर्माणाधीन कार्याे में तेजी लाकर अवशेष कार्याे को मानक के अनुरूप गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूरा किया जाए तथा कराये जा रहे कार्यों की नियमित रूप से मॉनिटरिंग भी की जाए। उन्होने सभी कार्यों को निर्धारित शर्ताे के अनुसार गुणवत्तापूर्ण ढंग से प्रत्येक दशा में माह दिसम्बर, 2023 तक पूरा कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने कहा कि ए0एन0सी0/एन0आर0सी0 का निर्माण कार्य पूरा हो जाने से निश्चित ही अस्पताल में आने वाले मरीजो को और बेहतर सुविधाएं मिल सकेगी।
तत्पश्चात् संयुक्त सचिव ने संयुक्त जिला चिकित्सालय का भी निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान उन्होने अस्पताल में भर्ती मरीजों को दी जा रही सुविधाओं का जायजा लिया तथा इलाज के लिए आये मरीजों से बातचीत कर उनका भी कुशलक्षेम जाना। और मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देश दिया कि सरकार द्वारा प्रदत्त सभी सुविधाएं मरीजों को समय से मुहैया होती रहे, इसका विशेष ध्यान रखा जाए। इस दौरान अस्पताल परिसर में साफ-सफाई बेहतर ढंग से न मिलने पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को हमेशा साफ-सफाई दुरुस्त रखने का निर्देश दिया। एस0एन0सी0यू0 वार्ड के निरीक्षण के दौरान उन्हाने निर्देश दिया कि वार्ड में भर्ती नवजात शिशुओं को बेहतर ढंग से देखभाल करके उन्हें स्वस्थ्य बनाया जाए। उन्होने अस्पताल परिसर में खड़ी एम्बुलेंस के निरीक्षण के दौरान निर्देशित किया कि जो एम्बुलेंस खराब और कंडम अवस्था अस्पताल परिसर में खड़ी है, उन्हें कंडम कराने हेतु नियमानुसार कार्यवाही की जाए। उन्होने यह भी निर्देश दिया कि अस्पताल में तैनात सभी चिकित्सकों/पैरामेडिकल कर्मियों की शत्-प्रतिशत उपस्थित सुनिश्चित रखें ताकि मरीजों को इधर-उधर भटकना ना पड़े, उन्होनें कहा कि अस्पताल में संचालित सभी वार्डाे एवं यूनिटों में स्वयं निगरानी रखें, ताकि अस्पताल में आये मरीजों को कोई दिक्कत न होने पाये। निरीक्षण के दौरान संयुक्त सचिव ने इलाज कराने आए मरीजो की संख्या, पैथालोजी में जांच कराने वाले मरीजो की संख्या, आपरेशन थियेटर रूम, एक्स-रे, अल्ट्रासाउण्ड, सिटी स्कैन, ब्लड बैंक, एस0एन0सी0यू0 वार्ड, लेबर रूम, जच्चा-बच्चा वार्ड, महिला वार्ड, महिला/पुरूष वार्ड, एन0आर0सी0 वार्ड, किचन, जनरल वार्ड, डायलिसिस रूम, ए0ई0एस0/जे0ई0 वार्ड सहित अनुभागो से सम्बन्धित जानकारी ली और मरीजो को सभी सुविधाए पूरे पारदर्शिता के साथ मुहैया कराने के साथ-साथ मरीजो के साथ बेहतर व्यहार कर सेवा भाव के रूप में अस्पताल में प्रदत्त सभी सुविधाए मुहैया कराने हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया। उन्होनें जोर देते हुए कहा कि, यदि किसी भी चिकित्सक या पैरामेडिकल कर्मी की लापरवाही करने की शिकायत मिली तो निश्चित ही कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।उक्त अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अनुभव सिंह, उपजिलाधिकारी भिनगा पीयूष जायसवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0पी0 सिंह, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग एस0के0 हरित, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 रामगोपाल, अवर अभियंता नीरज सहित अन्य अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।