बहराइच: 13 वर्षीय अपनी लड़की को रोता छोड़ गए दिल्ली के रहने वाले (सौतेलि)माँ बाप ने किया है दूसरी शाद्दी

398

एस.एस.बी व मानव सेवा संस्थान के द्वारा रेस्क्यू कर सकुशल उत्तर प्रदेश पुलिस रुपैडिहा को सौपा

दिनांक 06/11/2023 को समय लगभग 0900 बजे प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र रुपैडिहा से मानव सेवा संस्थान (NGO) के कार्मिको को फ़ोन आया कि यहाँ प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र के पास एक छोटी लड़की काफी समय से रो रही है और उससे पूछने पर उसने बताया कि वह दिल्ली की रहने वाली है, इसके अतिरिक्त कुछ भी नहीं बता पा रही है। जिसके बाद एस.एस.बी व मानव सेवा संस्थान (NGO) के कार्मिक उस छोटी लड़की को प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र से लेकर आये। लड़की से पूछताछ की तो उसने अपना नाम अनन्या गुप्मा बताया और वह अपने माता पिता के साथ दिल्ली से आयी थी। पिता का नाम अशोक कुमार गुप्ता और माता का नाम बिमला गुप्ता व बहन का नाम अनीता गुप्ता बता रही है।  लड़की ने यह भी बताया कि उसके अपनी मां के देहांत के बाद उसके पिता ने दूसरी शादी करली, उसकी सौतेली मां और पिता उसे यहां छोड़ गए,रोते हुए उसने बताया की उसके  मामा का पता विशेसरगंज मे कही है लेकिन वह मामा के यहाँ कभी गयी नहीं है। वह अपने माता पिता के साथ घुमने आयी थी पर उसे इसका बिल्कुल भी अन्दाज़ा नही था कि उसके साथ ऐसा होगा। उसके माता पिता उसको घुमने के बहाने प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र रुपैडिहा के पास छोड़कर गये और उन्होंने कहा था कि थोड़ी देर में आते हैं पर मेरे माता पिता आये नहीं। इसके अतिरिक्त लड़की कुछ नही बता पायी लड़की की उम्र लगभग 13 वर्ष है। उसके उपरांत लड़की को मानव सेवा संस्थान (NGO) की उपस्थिति में अग्रिम विधिक कार्यवाही हेतु सकुशल उत्तर प्रदेश पुलिस रुपैडिहा के सुपुर्द कर दिया गया।