Akasa Air: 43 पायलटों के इस्तीफे से संकट में एयरलाइन, 700 उड़ाने हो सकती हैं कैंसिल, जानें पूरा मामला

90

हाल ही में शुरु हुए अकासा एयर (Akasa Air) पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। 43 पायलटों के इस्तीफे (43 Pilots Resign) के बाद अकासा एयर को अपना ऑपरेशन बंद करना पड़ सकता है। एयरलाइन ने मंगलवार को दिल्ली हाईकोर्ट को यह जानकारी दी है। पायलटों के अचानक इस्तीफे के कारण कंपनी को सितंबर में हर दिन 24 उड़ानें कैंसिल करनी पड़ींं हैं।

एयरलाइंस में शामिल हुए प्रतिद्वंदी

एयरलाइन के वकील ने जस्टिस मनमीत प्रीतम अरोड़ा को बताया कि पायलटों ने अनिवार्य नोटिस अवधि पूरी नहीं की, इसलिए अकासा एयर को हर दिन कई उड़ानें कैंसिल करने के लिए मजबूर होना पड़ा। फर्स्ट ऑफिसर्स के लिए नोटिस पीरियड 6 महीने और कैप्टन के लिए 1 साल है।

– विज्ञापन –



Also Read: गणेश चतुर्थी पर लॉन्च हुआ ‘जियो एयर फाइबर’, दिल्ली, मुंबई जैसे 8 शहरों को मिलेगी सर्विस, 599 का सबसे सस्ता प्लान

बिजनेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पायलट अकासा एयर की प्रतिद्वंदी एयरलाइंस में शामिल हो गए हैं। इसमें ये भी कहा गया है कि अकासा एयर के एक अधिकारी ने राइवल ग्रुप को पत्र लिखकर चिंता व्यक्त की और इसे अनैतिक बताया।

अगस्त में एयरलाइन ने रद्द की थी 700 उड़ानें

अकासा एक दिन में 120 उड़ानें ऑपरेट करती है। इस महीने 600-700 फ्लाइट कैंसिल हो सकती हैं। अगस्त में भी उसे 700 उड़ानें कैंसिल करनी पड़ी थीं। अकासा का मार्केट शेयर अगस्त में कम हो कर 4.2% पर आ गया। जुलाई में यह 4.2% था। एयरलाइन ने अदालत से एविएशन रेगुलेटर डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन यानी डीजीसीए को अनिवार्य नोटिस पीरियड नियमों को लागू करने का अधिकार देने का अनुरोध किया है।

– विज्ञापन –



Also Read: SBI ने डिफॉल्टर्स के लिए बनाई योजना, अब चॉकलेट भेजकर किस्त चुकाने के लिए याद दिलाएगा बैंक

पायलटों से 22 करोड़ का मुआवजा मांग रही एयरलाइन

यही नहीं, एयरलाइन कथित तौर पर पायलटों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने की मांग कर रही है और उड़ानों के रद्द होने और ग्राउंडिंग के कारण राजस्व के नुकसान के लिए मुआवजे के रूप में लगभग 22 करोड़ रुपये की मांग कर रही है।


दुनिया प्रदेश की ताजा तरीन खबरें और रोचक जानकारीयों के लिए जुडिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से..लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज अपने व्हाट्सएप पर पायें…

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )