जनपद में उत्साह के साथ मनाया गया स्वच्छता के लिए श्रमदान कार्यक्रम

77

  • जनप्रतिनिधियों के नेतृत्व में ग्राम व नगरों में रही स्वच्छता अभियान की धूम
  • डीएम ने घण्टाघर पार्क में श्रमदान कर अभियान का किया श्रीगणेश

बहराइच। शहरों और गांवो को स्वच्छ बनाने हेतु सार्वजनिक कार्याे को प्रेरित करने तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के लिए उनकी जयन्ती की पूर्व सन्ध्या पर एक स्वच्छांजलि अर्पित करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आहवान पर आकांक्षात्मक जनपद बहराइच के ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में जनप्रतिनिधियों व नोडल अधिकारियों के नेतृत्व में ग्राम पंचायतों, ब्लाकों, तहसील व जिला स्तर पर ‘‘एक तारीख एक घण्टा स्वच्छता के लिए श्रमदान’’ कार्यक्रम का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया। इस स्वच्छता अभिदान का मुख्य फोकस कूड़ा करकट वाले संवेदनशील क्षेत्रों और अधिक आवाजाही वाले स्थानो पर वास्तविक रूप से सफाई गतिविधियों को संचालित करने पर गांव और शहर सुन्दर और स्वच्छ होंगे।

नगर की हृदय स्थल घण्टाघर पार्क में जिलाधिकारी मोनिका रानी ने शासन द्वारा नगर विकास के लिए नामित नोडल अधिकारी उप निदेशक नगर विकास सुनील यादव, नगर पालिका परिषद बहराइच की अध्यक्ष सुधा देवी, भाजपा जिलाध्यक्ष बृजेश पाण्डेय, उपाध्यक्ष राघवेन्द्र प्रताप सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष श्यामकरन टेकड़ीवाल व अन्य पार्टी पदाधिकारियों, गणमान्य व संभ्रान्तजन, स्वैच्छिक संस्थाओं के पदाधिकारी व सदस्यगण, समाजसेवी, व्यापारियो व उद्यमियों, नगर मजिस्ट्रेट शालिनी प्रभाकर, उप जिलाधिकारी सदर डॉ. पूजा यादव, ई.ओ. प्रमिता सिंह व अन्य अधिकारियों तथा आमजन के साथ श्रमदान में भाग लिया। इस अवसर पर डीएम ने अन्य अतिथियों एवं अधिकारियों के साथ नगर पालिका परिषद बहराइच की ओर से तैयार कराये गये स्वच्छता गीत का विमोचन कर कार्यक्रम स्थल पर स्थापित किये गये बैनर पर हस्ताक्षर कर स्वच्छता हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत की। ‘‘एक तारीख एक घण्टा स्वच्छता के लिए श्रमदान’’ कार्यक्रम अन्तर्गत रेलवे ट्रैक के आस पास की झाडियांे/कचरा एवं रेलवे स्टेशन, बस अडडा, टोल प्लाजा व आस-पास के क्षेत्रों में सड़क के किनारे की पटरियों, तालाब, पोखर, पुलो के नीचे, बाजार, गलियों, पूजा स्थलो के आस पास का क्षेत्र, सार्वजनिक एवं निजी कार्यालयों के आस पास के क्षेत्र, मुख्य पर्यटन स्थल, वन्य जीव क्षेत्र, गौशाला, आवासीय मुहल्लों, अस्पताल, आंगनबाडी केन्द्रों, स्कूलों एवं कालेजों के आस पास के क्षेत्र, पार्काे, खुली जगहों, मुख्य चौराहों एवं गन्दी बस्तियों आदि स्थलों पर विशेष सफाई एवं सिगिल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबन्ध के साथ अन्य विकल्प हेतु जागरूक किया गया तथा ग्राम पंचायत एवं नगर निकायों के सामुदायिक एवं सार्वजनिक शौचालयों और सार्वजनिक स्थानों की विशेष सफाई की गयी।

रिपोर्ट – संतोष मिश्रा

विज्ञापन बॉक्स