आयुक्त एवं जिलाधिकारी ने जिला दिव्यांग पुर्नवास केन्द्र पर दिव्यांगजनों को बांटे उपकरण व ट्राईसाईकिल

90

अध्यक्ष जिला पंचायत, आयुक्त एवं जिलाधिकारी ने संयुक्त जिला अस्पताल के गेट पर पहुंचकर किया श्रमदान
रिपोर्ट । प्रवीण कुमार मिश्रा
श्रावस्ती। रेडक्रास सोसायटी द्वारा संचालित जिला दिव्यांग पुर्नवास केन्द्र पर आयुक्त देवापाटन मण्डल के आयुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने 79 दिव्यांगजनों को विभिन्न प्रकार के उपकरण/ट्राईसाईकिल प्रदान की। गांधी जयंती के अवसर पर अपने जनपद भ्रमण के दौरान आयुक्त द्वारा जिला दिव्यांग पुर्नवास केन्द्र का निरीक्षण किया गया तथा एक बार पुनः 79 दिव्यांगजनों को विभिन्न प्रकार के उपकरण देकर उन्हें लाभान्वित किया गया। इस दौरान बड़ी ट्राईसाईकिल 47, छोटी ट्राईसाईकिल 12, व्हील चेयर बड़ी 05, व्हील चेयर छोटी 02, सीपी चेयर 01, कान की मशीन 08 व सुगम्य केन 04 का वितरण आयुक्त द्वारा किया गया।
इस अवसर पर डी0डी0आर0सी0 भ्रमण करने के दौरान आयुक्त ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए इसे अत्यन्त सुन्दर व सार्थक प्रयास बताया तथा रेडक्रास सोसायटी को इस प्रयास के लिए शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर उन्होने कहा कि रेडक्रास सोसायटी द्विव्यांगजनों के लिए वरदान के समान है। इससे पूर्व भी राज्यपाल महोदया द्वारा दिव्यांगजनों को इस संस्था द्वारा 2247 उपकरण दिये गये थे। तब भी मेरा आना हुआ था। आज पुनः गांधी जयंती के अवसर पर 79 दिव्यांगजनों को उपकरण प्रदान करते हुए बहुत खुशी हो रही है।इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि रेडक्रास सोसायटी द्वारा लगातार दिव्यांगजनों की सेवा में विभिन्न कार्यक्रम किये जा रहे है। जनपद के इस सेंटर द्वारा अबतक 3314 दिव्यांगजनों को राहत पहुंचायी गई हैं व लगभग 2400 दिव्यांगों को विभिन्न प्रकार के उपकरण देकर उनके जीवन को आसान बनाया गया है। रेडक्रास सोसायटी का यह प्रयास बहुत सराहनीय है।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्राची सिंह, मुख्य विकास अधिकारी अनुभव सिंह, अपर जिलाधिकारी अमरेन्द्र कुमार वर्मा, डी0डी0आर0सी0 संचालक, सचिव रेडक्रास अरूण कुमार मिश्रा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0पी0 सिंह, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 रामगोपाल, रेडक्रास सदस्य पवनेश शुक्ला सहित डी0डी0आर0सी0 के कर्मचारीगण व लाभार्थियों के परिजन उपस्थित रहें।
तदोपरान्त मा0 अध्यक्ष जिला पंचायत दद्दन मिश्रा, आयुक्त, जिलाधिकारी एंव मुख्य विकास अधिकारी ने संयुक्त जिला अस्पताल के गेट पर पहुंचकर ’’स्वच्छता ही सेवा-2023 ’कचरा मुक्त भारत’’ पखवाड़ा के तहत स्वयं झाडू लगाकर श्रमदान भी किया तथा लोगों को स्वच्छता अपनाने हेतु प्रेरित भी किया।