ई-केवाईसी व बैंक आधार सीड न कराने पर नहीं मिलेगी किसान सम्मान निधि

85

रिपोर्ट । प्रवीण कुमार मिश्रा

श्रावस्ती। जिलाधिकारी कृतिका शर्मा के निर्देश पर उप निदेशक कृषि कमल कटियार ने बताया है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ अधिक से अधिक पात्र किसानों को दिलाने के उद्देश्य से शासन ने 15 अक्टूबर तक उनकी ई-केवाईसी और आधार सीडिंग कराने के निर्देश दिये हैं। ऐसा नहीं कराने वाले किसान सम्मान निधि की 15वीं किस्त से वंचित रह सकते हैं। जनपद में अभी तक 11वीं किस्त के अनुसार 173282 पात्र किसान दर्ज किये गये हैं। जिसमें से अभी भी 65218 किसानों की ई-केवाईसी व 50614 किसानों की बैंक में आधार सीडिंग नही कराई है, जिसके लिए मुख्य विकास अधिकारी द्वारा इस कार्य को करने हेतु अधिकारियों और कर्मचारियों की ग्रामवार ड्यूटी लगाई गयी है तथा अभियान चलाकर इस कार्य को पूरा कराया जायेगा।उन्होने बताया कि किसानों की सहायता करने के उद्देश्य से भारत सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र किसानों को छह हजार रूपये उनके खाते में भेजती है। इस धनराशि को दो दो हजार की तीन किस्तों में किसानों को बैंक खाते में दिया जाता है। सम्मान निधि का लाभ कुछ अपात्रों को मिलने की शिकायत को देखते हुए शासन के निर्देश पर सभी किसानों को ई-केवाईसी और बैंक खाते में आधार सीडिंग करा रहे हैं। इसको लेकर प्रधानमंत्री किसान संतृप्तीकरण अभियान चलाकर ग्रामवार शिविर लगाये जा रहे हैं।उन्होने यह भी बताया कि ई-केवाईसी न कराने वाले किसानों को सम्मान निधि की 15वी किस्त से वंचित रहना पड़ सकता है। इसलिए सभी किसान ई-केवाईसी और बैंक खाते में आधार सीडिंग करा लें।