पापांकुशा एकादशी पर आज जरूर कर लें 3 खास उपाय, अमीर बनते नहीं लगेगी देर!

109

Papankusha Ekadashi 2023 Upay: हिन्दू पंचांग के अनुसार पापांकुशा एकादशी 25 अक्टूबर को है। ऐसे में इस दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए खास उपाय कर सकते हैं।

Ekadashi ke Upay: शास्त्रों में एकादशी तिथि को भगवान विष्णु की प्रिय तिथि बताया गया है। साल 2023 में पापांकुशा एकादशी 25 अक्टूबर को पड़ रही है। कहते हैं कि अगर एकादशी गुरुवार के दिन आ जाए तो उसका महत्व और भी अधिक बढ़ जाता है। इसी प्रकार यदि एकादशी शुक्रवार के दिन आए तो उस दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए किए गए उपाय तुरंत असर दिखाते हैं। यदि रविवार को आए तो सूर्य के निमित्त किए गए उपायों से राजयोग की प्राप्ति होती है।

शास्त्रों के अनुसार एकादशी किस वार को आ रही है, इसका भी विशेष महत्व बताया जाता है। यही कारण है कि अलग-अलग वार को आने वाली एकादशियों पर अलग-अलग ग्रहों को प्रसन्न करने के एकादशी के उपाय बताए जाते हैं। हालांकि कुछ उपाय ऐसे होते हैं जिन्हें आप कभी भी कर सकते हैं। सच्चे मन और श्रद्धा के साथ किए जाने पर ये उपाय निश्चित रूप से आपके भाग्य को बदल सकते हैं।

यह भी पढ़ें: एक दिन बाद गुरू प्रदोष व्रत का खास संयोग, मैरिड लाइफ में मिठास लाएंगे 1 महा उपाय

पापांकुशा एकादशी पर करें ये उपाय

पापांकुशा एकादशी की सुबह एक चांदी का सिक्का भगवान विष्णु के चरणों में रख दें। दिन भर और रात भर वहीं रहने दें। अगले दिन सुबह पूजा के बाद इस सिक्के को एक लाल कपड़े में बांधकर अपने घर या व्यापार की तिजोरी में रख दें। इससे घर में लक्ष्मी आने लगेगी। यदि चांदी का सिक्का न मिल पाएं तो आप एक रुपए के सिक्का से भी इस उपाय को कर सकते हैं।

तुलसी का उपाय

एकादशी पर तुलसी के पत्तों की माला बना लेनी चाहिए। इस माला को भगवान नारायण को अर्पित करें। इस माला को अगले दिन उतार कर तुलसी के पत्तों को अलग कर लें और अपने पूजा स्थल पर रख दें। इस प्रकार उस घर में रहने वाले समस्त नेगेटिव शक्तियां घर से बाहर निकल जाएंगी।

यह भी पढ़ें: 30 साल बाद शरद पूर्णिमा के दिन लग रहा चंद्र ग्रहण, गर्भवती महिलाएं रहें सावधान! इन नियमों का करें पालन

विष्णु सहस्त्रनाम का करें पाठ

विष्णु सहस्त्रनाम भगवान श्रीहरि के 1008 नामों की नामावली है। इसका यदि एकादशी के दिन कम से कम 7, 11 या 21 बार पाठ किया जाए तो व्यक्ति के जीवन में आने वाले सभी संकट दूर हो जाते हैं। व्यक्ति पर कितना भी बड़े से बड़ा दुख या संकट आने वाला हो, इस उपाय से पूरी तरह समाप्त हो जाता है। साथ ही उस पर भगवान विष्णु की भी कृपा होती है।

डिस्क्लेमर: यहां दी गई जानकारी ज्योतिष पर आधारित है तथा केवल सूचना के लिए दी जा रही है। Mnt News Bharat इसकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी उपाय को करने से पहले संबंधित विषय के एक्सपर्ट से सलाह अवश्य लें।