इंडो-नेपाल बॉर्डर पर तैनात जवानों को छात्राओं ने बांधी राखी..जवान बोले- घर न जा पाने का मलाल था, लेकिन खुशी यहीं मिल गई

148

महराजगंज जिले से सटे सोनौली सीमा पर मंगलवार को एसएसबी के जवानों को महिलाओं और छात्राओं ने राखी बांधकर उनकी हौसला आफजाई की। अपने घर से दूर सरहद पर देश की रक्षा के लिए तैनात जवानों को राखी पर्व मनाने का मलाल था। लेकिन छुट्टी ना मिल पाने के कारण जवान अपने घर नहीं जा पाए। ऐसे में मंगलवार को सीमा पर जब उनके हाथों में राखी बांधा गया, तो भावुक हो उठे। इस दौरान जवानों ने बहनों को उपहार भी दिया।

CM योगी का बड़ा ऐलान- बाढ़ से मकान क्षतिग्रस्त होने पर प्रभावित परिवारों के लिए नया बनाएगी सरकार
गोरखपुर की पूर्व मेयर सत्या पांडेय, सीमा जागरण मंच के कार्यकर्ता और सरस्वती विद्या मंदिर की बच्चियों मंगलवार की शाम को बॉर्डर पर तैनात जवानों के कैंप पर पहुंची। उनके कलाइयों में राखी बांधकर बहन का फर्ज अदा किया। सर्वप्रथम पूर्व मेयर ने भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण कर और तिलक लगाकर पूजन कर जवानों को राखी बांधकर लम्बी उम्र की कामना की। बहनों ने नेपाल के जवानों के कलाइयों में भी राखी बांधी। जिससे उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। राखी बांधने के बाद महिलाओं ने भाइयों का मुंह मीठा कराया। इसके बाद भाइयों ने भी उपहार देकर अपना फर्ज निभाया।
महराजगंज में अवैध रूप से चल रहा अस्पताल सील..स्वास्थ्य विभाग की टीम ने की कार्रवाई ,अस्पताल संचालक सहित जिम्मेदारों पर दर्ज होगा मुकदमा
इस दौरान सहायक कमांडेंट राजू पायलट ने कहा कि सीमा की सुरक्षा उनके जिम्मे है। ऐसे में त्योहार या पर्व पर घर न जा पाने का मलाल रहता है। लेकिन बहनों ने जवानों को राखी बांधकर अपार खुशी दी है। इस मौके पर उपनिरीक्षक उमेश सिंह नेगी,सह उपनिरीक्षक विमल चेतिया, उपनिरीक्षक महिला अंजली, सह उपनिरीक्षक संचार गौतम कुमार, कमल कांत, तपन घोस सहित नेपाल के जवान मौजूद रहे।