CM योगी ने अंबेडकरनगर SP को लगाई फटकार, बोले- तुम अपराधियों की उतार रहे थे आरती, 7 बार किया छात्रा का दुपट्टा खींचने की घटना का जिक्र

160

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सोमवार की शाम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सूबे की कानून व्यवस्था को लेकर अब तक की सबसे बड़ी बैठक बुलाई। इस दौरान सीएम योगी ने प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस कप्तानों व कमिश्ररेट के अफसरों से लेकर सीओ और थानेदार तक से बात की। लापरवाही करने वाले अफसरों को फटकार भी पड़ी। खास बात ये रही कि अंबेडकरनगर (Ambedkar Nagar) जिले में बीते दिनों छात्रा का दुपट्टा खींचे जाने के बाद मौत के मामले में मुख्यमंत्री बेहद नाराज दिखे।

अंबेडकरनगर एसपी को सख्त हिदायत

सीएम योगी ने अंबेडकरनगर जिले की घटना का जिक्र बार-बार किया। घटना में जिस तरीके से छात्रा का दुपट्टा खींचे जाने और फिर टक्कर के बाद उसकी मौत हुई। एसपी द्वारा लापरवाही बढ़ती गई। सीएम ने इसे बहुत गंभीरता से लिया और जमकर फटकार लगाी। मुख्यमंत्री ने अंबेडकरनगर के एसपी अजीत कुमार सिन्हा से कहा कि जब तक शासन ने निर्देश नहीं दिया, तब तक तुम अपराधियों की आरती उतार रहे थे। सीएम ने मीटिंग में करीब सात बार अंबेडकरनगर की घटना का जिक्र किया। ऐसी लापरवाही दोबारा ना हो, इसकी सख्त हिदायत दी।

Also Read: महिला इंस्पेक्टर के हाथों होगी UP के हर जिले के एक थाने की कमान, CM योगी ने जारी किया आदेश

वहीं, आगरा और सुल्तानपुर की घटना पर भी योगी ने नाराजगी जताई। हाथरस में गोकशी को लेकर एसपी के दिए तर्क पर जमकर क्लास लगाई। मीटिंग में सीएम योगी ने एसपी हाथरस से पूछा कि इतनी सख्ती के बावजूद गोकशी कैसे हो रही है? इस पर एसपी हाथरस देवेश कुमार पांडेय ने जवाब दिया कि सर…30 किलो ही तो ले जा रहे थे।

गोकशी की घटनाओं में लापरवाही बर्दाश्त नहीं

यह सुनकर मुख्यमंत्री सन्न रह गए। उन्होंने कहा कि गोमांस और गोकशी की घटनाएं हो ही कैसे रही हैं? 30 किलो गोमांस भी तो किसी गाय से काट कर निकला गया होगा। ऐसी लापरवाही नहीं बर्दाश्त की जाएगी। यूपी सरकार का मिशन शक्ति अभियान बलरामपुर जिले के देवीपाटन मंदिर से हर साल नवरात्रि के दिन शुरू होता है। 15 अक्टूबर से शुरू हो रही नवरात्रि और मिशन शक्ति अभियान से पहले प्रदेश के छोटे जिलों में लूट की घटनाओं पर योगी नाराज दिखे।

Also Read: UP: योगी सरकार ने जारी किया आदेश, 30 सितंबर तक बड़े पैमाने पर होगा पुलिसकर्मियों का तबादला

बलरामपुर-महाराजगंज जिले के SP को फटकारते हुए योगी ने कहा- छोटे जिलों में लूट की घटनाएं कैसे हो रही हैं? छोटे जिलों में लूट की घटनाओं के होने का मतलब है कि जिले की पुलिसिंग फेल है। जब जिले के कुछ चौराहों को नहीं सुरक्षित किया जा सकता है तो पुलिस की चेकिंग अभियान में भी खानापूर्ति की जा रही है।

सोमवार शाम 7 बजे से शुरू हुई मीटिंग 3 घंटे 10 मिनट तक चली। फिलहाल, सीएम की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सबसे महत्वपूर्ण मामला महिला सुरक्षा रहा। शारदीय नवरात्रि से शुरू होने वाले मिशन शक्ति अभियान को लेकर भी मुख्यमंत्री योगी ने सभी पुलिस के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )