एक ही फंदे से लटके मिले प्रेमी-प्रेमिका,दुपट्टे के फंदे में एक साथ झूल गए प्रेमी जोड़े, पेड़ से लटके मिले दोनों शव

208

साथ जिएंगे-साथ मरेंगे! एक ही रस्सी के फंदे से लटक गए प्रेमी-प्रेमिका …

उन्नाव में मंगलवार को प्रेमी युगल का शव बरामद होने से सनसनी फैल गई. घटना फतेहपुर चौरासी थाना क्षेत्र के चौगवां गांव की है. दोनों शव गंगा कटरी में पेड़ की डाल से फंदे पर लटके मिले. बताया जाता है कि दोनों सोमवार से लापता थे. जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पेड़ से उतरवाया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. अपर पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल का मुआयना करने के बाद परिजनों से पूछताछ की.

पेड़ से फंदे पर लटके मिले प्रेमी जोड़े के शव

चौगवां गांव के रहने वाले मनोहर राजपूत का बेटे विकास मजदूरी करता था. डेढ़ साल पहले विकास की शादी सदर कोतवाली क्षेत्र के बहादुर गांव निवासी युवती से हुई थी. पति से अनबन होने के बाद गर्भवती पत्नी ससुराल छोड़ कर दो माह से मायके में रहने लगी. विकास का गांव की अविवाहित युवती से प्रेम प्रसंग था. प्रेमिका शादी के लिए प्रेमी पर लगातार दबाव बना रही थी. प्रेमी शादी का विरोध कर रहा था. मंगलवार को चौगवां गांव से करीब ढाई किलोमीटर दूर पेड़ की डाली पर फंदा डालकर दुपट्टे से प्रेमी युगल ने खुदकुशी कर ली.

कुंआरी प्रेमिका शादी का बना रही थी दबाव

दोनों शव एक ही दुपट्टे के फंदे से बरामद होने पर इलाके में हड़कंप मच गया. पुलिस को ग्रामीणों ने घटना की सूचना दी. जानकारी पाकर इंस्पेक्टर राजेश पाठक दल बल के साथ मौके पर पहुंचे. सीओ सफीपुर ऋषिकांत शुक्ला के मुताबिक कुंआरी प्रेमिका प्रेमी पर लगातार शादी का दबाव बना रही थी. प्रेमी शादी से इंकार कर रहा था. सोमवार की देर रात दोनों ने फंदे से लटक कर खुदकुशी कर ली. शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है.

उन्नाव जिले में फतेहपुर चौरासी थाना क्षेत्र में विवाहित प्रेमी व अविवाहित नाबालिग प्रेमिका के शव पेड़ पर दुपट्टे के फंदे से लटके मिले। किसानों ने गांव से करीब तीन किलोमीटर दूर दो खेतों के बीच में शव लटकते देखे, तो परिजनों को सूचना दी। मौके पर एसओ पहुंचे और उच्चाधिकारियों को सूचना दी।

एएसपी और सीओ ने जांच कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे हैं। थाना क्षेत्र के गांव चौगवां निवासी मनोहर निषाद के बेटे विकास (22) का पड़ोस में रहने वाली नाबालिग किशोरी राजेंद्र निषाद की बेटी उर्मिला (17) से काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। लेकिन परिजनों को इसकी जानकारी नहीं थी।

विकास की दो साल पहले सुनीता से शादी हो गई थी और वह मौजूदा समय में आठ महीने की गर्भवती भी है। विकास मजदूरी करने के साथ गांव की खेती में हाथ बंटाता था। चार दिन पहले वह कानपुर जाने की बात कहकर घर से निकला था। फिर वह घर नहीं लौटा। सोमवार रात उसने प्रेमिका उर्मिला से फोन पर बात की।

उर्मिला परिजनों को बिना बताए घर से निकल गई

रात करीब 11:30 बजे उर्मिला परिजनों को बिना बताए घर से निकल गई। विकास भी कानपुर से सीधे गांव पहुंचा, लेकिन अपने घर नहीं गया। रात में ही दोनों घर से करीब तीन किलोमीटर दूर गांव के ही बहादुर और बलीराम के खेत की मेड़ पर खड़े बकैना के पेड़ पर एक दुपट्टे से फंदे पर लटक गए।

परिजनों में मचा कोहराम

मंगलवार सुबह खेत गए किसानों की सूचना पर दोनों के परिजन घटनास्थल पर पहुंचे, तो कोहराम मच गया। प्रेमी युगल के आत्महत्या करने की सूचना पर अपराध निरीक्षक जयप्रकाश यादव फोर्स के साथ पहुंचे और परिजनों से घटना की जानकारी ली। इसके बाद एएसपी शशिशेखर और सीओ ऋषिकांत शुक्ला भी पहुंचे।

शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे

पुलिस टीम और फोरेंसिक ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए हैं। परिजनों ने दोनों के प्रेम प्रसंग का एक सप्ताह पहले ही जानकारी होने की बात बताई। मृतका उर्मिला के छोटे भाई श्यामजी ने पुलिस को बताया कि एक सप्ताह पहले पता चलने पर परिजनों ने बहन को डांटा था। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे हैं।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद होगी अग्रिम कार्रवाई

सीओ ऋषिकांत शुक्ला ने बताया कि अभी तो मामला प्रेम प्रसंग का है। दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। उसके बाद ही आगे की कार्रवाई होगी। दोनों के प्रेम प्रसंग की परिजनों को जानकारी पहले से थी।

उन्नाव में पेड़ से लटके मिले प्रेमी-युगल के शव: प्रेमी का हो गया था विवाह, नाबलिग प्रेमिका से था प्यार; दोनों एक ही दुपट्टे से लटके मिले

उन्नाव में विवाहित प्रेमी व अविवाहित नाबालिग प्रेमिका के शव पेड़ पर दुपट्टे के फंदे से लटके मिले। गांव से करीब ढाई किमी दूर दो खेतों के बीच में शव लटकते देखे, तो परिजनों को सूचना दी। मौके पर एसओ पहुंचे और उच्चाधिकारियों को सूचना दी। जानकारी पर पहुंची पुलिस ने शवों को उतरवा कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। घटना को लेकर अपर पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच पड़ताल करने के साथ ही परिजनों से पूछताछ की है। घटना फतेहपुर चौरासी थाना क्षेत्र के चौगवां गांव की है।