बस्ती में दलित युवक को सिगरेट से जलाया:* दोनों पक्षों में जमकर चले ईंट-पत्थर, जान बचाने के लिए छिपे युवक को निकालकर मारा

184

पहले दलित को सिगरेट से दागा, फिर परिवार को पीटा

पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र का लखनौरा गांव उस समय रणभूमि में तब्दील हो गया, जब एक दलित युवक को दूसरे ने सिगरेट से जला दिया। इसको लेकर बात इतनी बढ़ गई कि दोनों पक्षों से जमकर ईंट-पत्थर चले। इतना ही नहीं एक युवक तो जान बचाने के लिए टेम्पों में छिप गया, जिसे मनबढ़ों ने खींचकर बाहर निकाला और उसकी पिटाई कर दी। इसके चलते उसका सिर फट गया। वहीं कई अन्य लोगों को चोट आई है। पीड़ित मनोज कुमार गौतम ने बताया कि लक्ष्मी पूजन के दौरान गांव में भंडारा चल रहा था। इतने में गांव के विपिन चौधरी सिगरेट पीते हुए आया और उन्हें सिगरेट से जलाने लगा। विरोध करने पर परिजनों को बुला लिया और मारपीट करने लगा। बताया कि जब जान बचाने के लिए घर में भागे तो सभी ने घर पर भी धावा बोल दिया। ईंट-पत्थर भी चलाए, जिसमें कई घायल हो गए। इतना ही नहीं घर के समीप खड़ी एक टेंपो को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।

एसओ पर धमकाने का आरोप

मामले में पीड़ित पक्ष के लोगों से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि जब वे घटना से संबंधित प्रार्थना पत्र लेकर थाने पर पहुंचे तो एसओ ने दस घंटे से अधिक समय तक एप्लीकेशन नहीं लिया। आरोप लगाते हुए बताया कि तहरीर में नाम निकालने की बात भी कह रहे थे। बताया कि एसओ ने कहा कि जब मैं चाहूंगा तभी मुकदमा दर्ज होगा। मेरे हिसाब से तहरीर लिखो। जब थाने में मौजूदगी की फोटो खींची और उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया तब जाकर सुनवाई हुई। पुरानी रंजिश को लेकर फंसाना चाह रहा है दलित परिवार आरोपी विपिन के बाबा राम मिलन चौधरी से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि पुरानी रंजिश को लेकर दलित परिवार उनके परिवार को फंसाना चाह रहा है। प्रकरण को लेकर जब एसओ पुरानी बस्ती महेश सिंह ने बात की गई तो उन्होंने कहा कि उनके ऊपर जो भी आरोप लगे हैं वह निराधार हैं। मनोज कुमार गौतम की तहरीर के आधार पर रवि चौधरी, जशवंत चौधरी, ध्रुव चौधरी, उमेश चौधरी, विपिन चौधरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की गई है।

पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र में स्थित लखनौरा गांव में दलित परिवार पर हमला करने व युवक को सिगरेट से जलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर उसके ही गांव के पांच व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज कर घटना की जांच शुरु कर दी है।

लखनौरा गांव निवासी मनोज गौतम ने पुलिस को तहरीर देकर कहा है कि सोमवार की रात में तकरीबन साढ़े दस बजे भंडारे का कार्यक्रम चल रहा था। वह कार्यक्रम में शामिल था। गांव के दबंग युवकों ने उसे अपने पास बुलाया और उसके शरीर को जगह-जगह सिगरेट से जलाने लगे। जब उसने इसका विरोध किया तो वे लोग उसके घर पर चढ़ गए। उसे और परिवार के अन्य सदस्य राजू, विपुल और आदित्य को मारपीट कर घायल कर दिया। उसने आरोप लगाया कि घर की महिला सोनमती ने जब बीचबचाव करना चाहा तो मनबढ़ों ने उसकी भी पिटाई कर दी। मनोज की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस सम्बंध में एसओ महेश सिंह ने कहा कि मनोज की तहरीर पर गांव के ही रवि चौधरी, यशवंत, ध्रुव चौधरी, उमेश चौधरी समेत अन्य व्यक्तियों के खिलाफ कैस दर्ज कर जांच की जा रही है।

मामला बेहद गंभीर, केस दर्ज सीओ

इसके बाबत पूछे जाने पर मामले की विवेचना कर रहे पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर विनय सिंह चौहान ने बताया कि लखनौरा कांड में सभी आरोपियों के खिलाफ पुरानी बस्ती पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। इस मामले में किसी भी स्तर पर ढिलाई नहीं होने दी जाएगी।

31 दिसंबर 2014 में हुई थी हत्या, विपिन पर था आरोप

बस्ती। पुरानी बस्ती के लखनौरा में 31 दिसंबर 2014 को दलित युवक के सिर को ईंटों से कूंचकर हत्या कर दी गई थी। रिश्ते में मनोज गौतम के चाचा लक्ष्मन को उस समय मार दिया गया था, जब नए वर्ष का जश्न मनाते हुए कुछ लोग गलत काम कर रहे थे। लक्ष्मण गौतम ने उनकी शिकायत करने की बात कहते हुए टोका था। इस मामले में पुलिस ने विपिन चौधरी समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।

पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र में स्थित लखनौरा गांव में दलित परिवार पर हमला करने व युवक को सिगरेट से जलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर उसके ही गांव के पांच व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज कर घटना की जांच शुरु कर दी है।  लखनौरा गांव निवासी मनोज गौतम ने पुलिस को तहरीर देकर कहा है कि सोमवार की रात में तकरीबन साढ़े दस बजे भंडारे का कार्यक्रम चल रहा था। वह कार्यक्रम में शामिल था। गांव के दबंग युवकों ने उसे अपने पास बुलाया और उसके शरीर को जगह-जगह सिगरेट से जलाने लगे। जब उसने इसका विरोध किया तो वे लोग उसके घर पर चढ़ गए। उसे और परिवार के अन्य सदस्य राजू, विपुल और आदित्य को मारपीट कर घायल कर दिया। उसने आरोप लगाया कि घर की महिला सोनमती ने जब बीचबचाव करना चाहा तो मनबढ़ों ने उसकी भी पिटाई कर दी। मनोज की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस सम्बंध में एसओ महेश सिंह ने कहा कि मनोज की तहरीर पर गांव के ही रवि चौधरी, यशवंत, ध्रुव चौधरी, उमेश चौधरी समेत अन्य व्यक्तियों के खिलाफ कैस दर्ज कर जांच की जा रही है। |

मामला बेहद गंभीर, केस दर्ज सीओ

इसके बाबत पूछे जाने पर मामले की विवेचना कर रहे पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर विनय सिंह चौहान ने बताया कि लखनौरा कांड में सभी आरोपियों के खिलाफ पुरानी बस्ती पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। इस मामले में किसी भी स्तर पर ढिलाई नहीं होने दी जाएगी। 31 दिसंबर 2014 में हुई थी हत्या, विपिन पर था आरोप बस्ती। पुरानी बस्ती के लखनौरा में 31 दिसंबर 2014 को दलित युवक के सिर को ईंटों से कूंचकर हत्या कर दी गई थी। रिश्ते में मनोज गौतम के चाचा लक्ष्मन को उस समय मार दिया गया था, जब नए वर्ष का जश्न मनाते हुए कुछ लोग गलत काम कर रहे थे। लक्ष्मण गौतम ने उनकी शिकायत करने की बात कहते हुए टोका था। इस मामले में पुलिस ने विपिन चौधरी समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।