सिद्धार्थनगर: मेला देखने गए युवक की बंधे के नीचे मिली लाश

127

सिद्धार्थनगर । मिश्रौलिया। थाना क्षेत्र के महरथा घाट पर सोमवार को मेला देखने आए युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में रतनपुर गांव के पास अशोगवा बंधे के नीचे शव मिला है। मंगलवार सुबह ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शहर के हुसेनगंज दतरंगवा निवासी मृतक के पिता ने पुत्र की हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

सदर थाना क्षेत्र के हुसेनगंज दतरंगवा निवासी अभय रस्तोगी (18) पुत्र तौलू रस्तोगी मोहल्ले के साथी जितेंद्र व कल्लू के साथ मिश्रौलिया थाना क्षेत्र में कार्तिक पूर्णिमा का मेला देखने गए थे। इनमें जितेंद्र के बहन की शादी मिश्रौलिया के रतनपुर गांव में हुई है। सोमवार रात तक अभय के घर नहीं लौटा, जिस पर परिजन उसे खोजने लगे। मंगलवार सुबह उन्हें जानकारी मिली कि अभय का शव बांध के नीचे पड़ा है। सूचना पर परिजन मौके पर पहुंच शव अभय की होने की पहचान की।

पिता तौलू रस्तोगी का कहना है कि उसके पुत्र के शव के चेहरे पर दाएं तरफ चोट और गले पर खरोंच के निशान है। इससे साबित होता है उसकी हत्या कर शव फेंका गया है। उसने पुलिस से मामले की जांचकर कार्रवाई करने की मांग की है। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मिश्रौलिया थानाध्यक्ष अरविंद कुमार ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी।
—————–
दोस्त इंतजार कर रहे, कहकर घर से निकला अभय, फिर नहीं लौटा
सिद्धार्थनगर। शहर के हुसेनगंज दतरंगवा निवासी मृतक के पिता तौलू रस्तोगी ने कहा कि अभय सोमवार दिन में 11:30 बजे घर से मेला देखने गया था। कहा कि जब वह घर से निकलने लगा तो कुछ सामान लाने को कहा तो उसने कहा कि दोस्त इंतजार कर रहे है और घर से चल दिया। पिता तौलू फफक कर रोते हुए कहा कि इसके बाद उसकी लाश मिली। तीन भाईयों में दूसरे नंबर का अभय रस्तोगी किराना की दुकान चलाता था। जबकि बड़ा भाई अजय कुमार रोजी-रोटी के सिलसिले में मुंबई रहता है और छोटा भाई विनय घर पर रहता है।
पोस्टमार्टम हाउस पहुंची मृतक की मां गीता बिलखते हुए कहती है कि वह बेटे के बारे में पूछने के लिए उसके दोस्तों के घर गई, लेकिन वह नहीं मिले। फोन करने पर जितेंद्र ने बताया वह अभय के साथ नहीं है और फोन काट दिया। जिसके बाद उसका फोन नहीं उठा।
——————-
जहां मिला शव, वहां कच्ची शराब का होता है धंधा
क्षेत्र के लोगों के अनुसार रतनपुर गांव से दो सौ मीटर दूर अशोगवा बांध के उत्तर तरफ नीचे जहां शव मिला था उसके पास ही कच्ची शराब का धंधा होता है। पास के गांव ओदनाताल में पुलिस ने कई बार कच्ची शराब के विरुद्ध कार्रवाई की है। स्थानीय लोगों का कहना है कि मृतक अभय सोमवार शाम को अशोगवा बांध पर बेहोशी की हालत में दिखा था, जिसके बाद सुबह उसकी लाश मिली। वहीं दोस्तों की भूमिका भी संदिग्ध नजर आ रही है। मृतक के परिजनों का कहना है कि मंगलवार को जानकारी होने पर वह वाहन से मृतक के एक दोस्त को घर से घटनास्थल पर ला रहे थे, लेकिन वह रास्ते में गाड़ी में तेल भराने के दौरान ही भाग गया, वहीं दूसरे से मोबाइल बंद होने के कारण संपर्क नहीं हो पा रहा है।