प्याज नहीं, अब लहसुन के दामों ने छुआ आसमान! जानिए नई कीमत

124

Garlic Price Hike: पिछले कुछ महीनों पहले टमाटर के दामों ने आसमान को छू लिया था, इसकी सब्जी खाना तो दूर की बात है चटनी तक के लिए कोई टमाटर को जल्दी इस्तेमाल में नहीं ले रहा था। इसके बाद प्याज भी हर साल की तरह महंगे हुए, लेकिन अब लहसुन ने महंगी सब्जियों की लिस्ट में अपना नाम जोड़ लिया है। जी हां, आपके खाने का स्वाद बढ़ाने वाले लहसुन की कीमत काफी ज्यादा बढ़ चुकी है।

पकवान का स्वाद बढ़ाना हुआ महंगा!

लहसुन को आमतौर पर पकवानों का स्वाद बढ़ाने के लिए जाना जाता है। जबकि, सेहत के लिहाज से भी लहसुन एक रामबाण उपाय माना जाता है। सर्दियों में खासतौर पर कई भारतीयों रसोइयों में इसे चटनी, अचार आदि के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, अब लहसुन से पकवान का स्वाद बढ़ाना आपकी जेब पर ज्यादा असर डाल सकता है।

लहसुन की नई कीमत क्या है?

लहसुन की कीमत काफी ज्यादा बढ़ चुकी है। रिटेल मार्केट में लहसुन को 300 से 400 रुपये प्रति किलोग्राम में बेचा जा रहा है। इसके पीछे का कारण नासिक और पुणे के प्रमुख उत्पादक क्षेत्रों में मौसम की खराबी और फसलें खराब होना है।

सप्लाई में आई कमी

खराब मौसम के कारण फसलें भी खराब हुईं जिससे पूरे महाराष्ट्र से सप्लाई में गिरावट आई है। मुंबई के थोक व्यापारियों को पड़ोसी गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश से सप्लाई खरीदने के लिए प्रेरित किया गया है, जिससे रसद लागत और अन्य स्थानीय शुल्क बढ़ गए हैं।

कीमतों में नहीं आएगी जल्दी गिरावट!

कम सप्लाई के वजह से पिछले कुछ सप्ताहों में लहसुन के दाम करीब दो गुना तक बढ़ चुके हैं। वाशी में APMC Yard के व्यापारियों का मानना है कि इसकी कीमतों में जल्दी सुधार नहीं आएगा। पिछले महीने एपीएमसी थोक यार्ड में लहसुन को 100 से 150 प्रति किलोग्राम के पिछले टैरिफ से 150- 250 प्रति किलोग्राम पर बेचा जाता है। ऐसे में लहसुन की रिटेल कीमत 300 से 400 प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई है।