बरेली की मुस्लिम शिक्षिका नेहा असमत ने अपनाया हिंदू धर्म, बोलीं- जबरन निकाह कराना चाहते थे परिजन, तीन तलाक-हलाला के डर से लिया फैसला

233

उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) जनपद से लापता स्कूल शिक्षिका नेहा असमत (Teacher Neha Asmat) ने हिंदू धर्म (Hinduism) अपना लिया है। शिक्षिका ने उज्जैन के महाकालमंदिर में दर्शन कर खुद के हिंदू धर्म अपनाने और नेहा असमत से नेहा सिंह बनने की घोषणा की है। शिक्षिका ने बताया कि तीन तलाक और हलाला से डरकर उन्होंने हिंदू धर्म अपनाया है। इसके साथ ही उन्होंने खुद और अपने सहकर्मी मोहित की जान का खतरा भी जताया है।

सोशल मीडिया पर वायरल नेहा की उज्जैन मंदिर की फोटो

नेहा असमत की मां रानी बेगम ने 11 नवंबर को बारादरी थाने में उसके अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उन्होंने नेहा के साथी शिक्षक मोहित सिंह पर अपहरण का शक जताया था। बारादारी पुलिस नेहा की तलाश कर रही थी। इस बीच अब सोशल मीडिया पर नेहा का उज्जैन मंदिर का फोटो वायरल हो रहा है।

Also Read: लखनऊ: चलती कार में पूर्व PCS अधिकारी की बेटी से गैंगरेप, बनाया अश्लील वीडियो, 12 घंटे के भीतर तीनों आरोपी गिरफ्तार

इसके साथ ही नेहा की ओर से एसएसपी ऑफिस में पत्र देकर बताया गया है कि उसके पिता अली की मौत हो चुकी है। बहन, बहनोई और एक अन्य व्यक्ति मां के साथ मिलकर उसकी शादी ऐसे शख्स से करने का दबाव बना रहे थे जो अपनी पत्नी को तलाक देने के बाद उसका हलाला करा चुका था।

नेहा ने बताया कि उन्हें यह शादी पसंद नहीं थी। परिवार ने दबाव बनाया तो उन्होंने घर छोड़ दिया। नेहा ने अपने धर्म परिवर्तन का प्रमाणपत्र तो साथ लगाया है, लेकिन शादी का जिक्र नहीं किया है। उन्होंने बताया कि परिजनों ने संजयनगर निवासी मोहित सिंह के खिलाफ अपहरण की झूठी रिपोर्ट दर्ज करा दी है, जबकि उन्होंने अपनी मर्जी से घर छोड़ा है और बिना किसी दबाव के सनातन धर्म अपनाया है।

Also Read: बांग्लादेशियों-रोहिंग्या को भारत में बसाने का करते थे काम, मोहम्मद जुबैर-साहिल और रियाजुद्दीन को UP STF ने किया गिरफ्तार

नेहा ने कहा कि परिवार से उन्हें जान का खतरा है। ये लोग उनकी हत्या करा सकते हैं। मोहित व उसके परिवार को भी खतरा है। चेतावनी दी कि कोई खतरा हुआ तो उन्हीं का परिवार जिम्मेदार होगा।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )