बस्ती में जच्चा-बच्चा की मौत पर अस्पताल परिसर में हंगामा, बिना डॉक्टर के ऑपरेशन करने का आरोप

82

UP News: सामुदायिक स्वास्थ केंद्र पर खांसी और कमर दर्द की दवा लेने के दौरान महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हो गई. फिर गर्भवती महिला को ऑपरेशन रूम ले जाया गया, डॉक्टरों के आने तक महिला की मौत हो चुकी थी.


बस्ती में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है. मंगलवार को जच्चा-बच्चा की संदिग्ध मौत पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रुधौली सवालों के घेरे में है. जच्चा बच्चा की मौत के बाद अस्पताल परिसर में लोगों ने बवाल कर दिया. हंगामे की सूचना पाकर प्रभारी निरीक्षक रुधौली दिनेश चंद्र मौके पर पुलिस बल के साथ पहुंचे. उन्होंने लोगों को समझा बुझाकर मामले को शांत कराया. जच्चा बच्चा की मौत ने अस्पताल परिसर में चर्चाओं को बल दे दिया. लोगों का कहना है कि महिला डॉक्टर की गैरमौजूदगी में प्रसव किसने किया.

गर्भवती महिला की मौत पर भड़का गुस्सा

गर्भवती महिला मोनी गौड़ का पति सूरज बाहर कमाने गया था. तीन महीनों से गर्भवती पत्नी सिद्धार्थनगर में बड़ी बहन के घर रह रही थी. रुधौली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तीन जनपदों के बॉर्डर पर है. सामुदायिक स्वास्थ केंद्र पर खांसी और कमर दर्द की दवा लेने के दौरान महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हो गया. आनन फानन गर्भवती महिला को ऑपरेशन रूम ले जाया गया. डॉक्टरों के आने तक महिला की मौत हो चुकी थी. महिला की मौत के बाद ऑपरेशन से मृत बच्चा निकाला गया. बता दें कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रूधौली में कई महीनों से महिला डॉक्टर की तैनाती नहीं है. प्रसव कराने आनेवाली महिलाओं को काफी समस्या होती है. ऐसे में स्टाफ नर्स प्रसव करते हैं.

अस्पताल परिसर में लोगों ने किया हंगामा

प्रसव कराने के नाम पर पैसों की उगाही का भी आरोप लगता रहा है. मामले की शिकायत कई बार तत्कालीन एमओआईसी से हुई. शिकायत का संज्ञान नहीं लिया गया. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रुधौली में एक सर्जन डॉक्टर राजेश पटेल की तैनाती है. राजेश पटेल गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार को ड्यूटी देने आते हैं. बाकी दिन जिला अस्पताल में ड्यूटी लगती है. ऐसे में ऑपरेशन करनेवाले डॉक्टर पर रहस्य बना हुआ है. लोगों का आरोप है कि अस्पताल में तैनात एक डॉक्टर की पत्नी ने ऑपरेशन किया. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी अमित कनौजिया ने बताया कि मामला संज्ञान में है. मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है. दोषी मिलने पर उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया है.