CM योगी ने रामगढ़ताल में ‘लेक क्वीन क्रूज’ का किया उद्घाटन, कहा- क्रूज सेवा से पर्यटन और रोजगार सृजन का होगा विस्तार

273

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा है कि लैंड लॉक्ड स्टेट कहे जाने वाले उत्तर प्रदेश में सरकार ने राप्ती, सरयू, गंगा और यमुना जैसी नदियों में इनलैंड वाटर वे सेवा शुरू करने के लिए इनलैंड वाटर वे ऑथॉरिटी का गठन किया है। इससे क्रूज सेवा को बढ़ावा मिलेगा और बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन होगा।


सीएम योगी शुक्रवार अपराह्न पर्यटन के नायाब केंद्र के रूप में उभरे सुरम्य रामगढ़ताल में क्वीन लेक क्रूज का उद्घाटन करने के बाद यहां ताल की जेट्टी पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी के विजन के अनुरूप प्रदेश में पर्यटन सुविधाओं का विकास किया जा रहा है। सड़कों को टूलेन से फोरलेन, सिक्सलेन, एटलेन और ट्वेल्वलेन बनाया जा रहा है। यूपी में रेल और एयर कनेक्टिविटी भी शानदार है। सीएम ने कहा कि इसके बावजूद यूपी को लैंड लॉक्ड स्टेट कहा जाता था। पर, पीएम मोदी ने इसका भी रास्ता निकाल दिया है। उनके मार्गदर्शन में वाराणसी से हल्दिया तक गंगा नदी में इनलैंड वाटर वे बनाकर क्रूज चलाया जा रहा है। क्रूज सेवा को बढ़ावा देने के लिए लिए यूपी में इनलैंड वाटर वे ऑथॉरिटी का भी गठन किया गया है।

शहर को जितना अच्छा रखेंगे उतना बढ़ेगा पर्यटन
सीएम योगी ने कहा कि गोरखपुर को आज अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त क्रूज के रूप में नया उपहार मिला है। खास बात यह है कि इस क्रूज को तैयार करने में स्थानीय श्रमिकों ने योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि हम जितना अच्छा शहर रखेंगे, उतनी ही पर्यटन की पर्यटन और विकास की संभावना बढ़ने के साथ नए रोजगार भी सृजित होंगे। यह एक तरह से जीवन चक्र जैसा है। इसलिए सुरक्षा और अच्छा माहौल मिलेगा तो बाहर के लोग यहां आएंगे। हरेक क्षेत्र में निवेश होगा और शहर के साथ प्रदेश और देश आगे बढ़ेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2047 तक विकसित भारत का जो सपना देखा है वह साकार होगा और सबके जीवन में खुशहाली आएगी।


वाटर स्पोर्ट्स की गतिविधियां बढ़ाएं जीडीए व पर्यटन विभाग
मुख्यमंत्री ने कहा कि छह वर्ष पूर्व रामगढ़ताल की स्थिति क्या थी, यह सबने देखा है। अब यह नया पर्यटन स्थल बन चुका है। चारों ओर सड़कें और फुटपाथ बन चुका है। यहां की चमचमाती लाइट देखकर लोगों को लगता ही नहीं कि वे गोरखपुर में ही हैं। उन्होंने कहा कि यह विकास की यह चमक बरकरार रहे, इसके लिए निरंतर सामूहिक प्रयास जरूरी हैं। मुख्यमंत्री ने वाटर स्पोर्ट्स की गतिविधियों को भी बढ़ाने के लिए गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) और पर्यटन विभाग को मिलकर आगे बढ़ने का निर्देश दिया।

सीएम योगी के नेतृत्व में बदली यूपी के प्रति लोगों की धारणा: जयवीर सिंह
क्रूज के उद्घाटन समारोह में पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह ने कहा कि गोरखपुर के लिए यह गौरवशाली अवसर है। जो झील कभी गंदगी और उपेक्षा की पर्याय थी, आज वहां क्रूज सेवा शुरू हो गई। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मार्गदर्शन में पर्यटन विभाग लगातार हर विधानसभा क्षेत्र में धार्मिक व ऐतिहासिक स्थलों का विकास करा रहा है। पर्यटन मंत्री ने कहा कि सीएम योगी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश के प्रति लोगों की धारणा बदली है।

सीएम की प्रेरणा से रामगढ़ताल में क्रूज चलना ऐतिहासिक पल: रविकिशन
समारोह में मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए सांसद रविकिशन शुक्ल ने कहा कि रामगढ़ताल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रेरणा और उनकी सोच की परिणति में क्रूज का चलना ऐतिहासिक पल है। यहां के लोगों को पहले क्रूज देखने गोवा जाना पड़ता था। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा कायाकल्प कराए जाने के बाद रामगढ़ताल और इसके आसपास फिल्मों की शूटिंग पहले से ही हो रही है। क्रूज के उपहार से इसमें चार चांद लग गए। समारोह में गोरखपुर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष आनंदवर्धन ने स्मृति चिन्ह भेंटकर मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, सांसद कमलेश पासवान, महापौर डॉ मंगलेश श्रीवास्तव, विधायक राजेश त्रिपाठी, महेंद्रपाल सिंह, विमलेश पासवान विपिन सिंह, प्रदीप शुक्ल, एमएलसी डॉ. धर्मेंद्र सिंह, भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष सहजानंद राय, जिलाध्यक्ष युधिष्ठिर सिंह, महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता, आदि मौजूद रहे।

क्रूज पर सवार होकर सीएम योगी ने निहारा रामगढ़ताल को
क्रूज का उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने क्रूज का अवलोकन किया और इस पर सवार होकर जलयात्रा की और रामगढ़ताल की सुंदरता का भी आनंद लिया। लेक क्वीन क्रूज के निर्माण पर 12 करोड़ रुपये से अधिक का खर्च आया है। क्रूज में पंचसितारा होटल जैसी सुविधाएं विकसित की गईं हैं। लेक क्वीन पर शाकाहारी और मांसाहारी व्यंजन मिलेंगे। 2700 वर्गफीट के क्षेत्रफल वाले क्रूज पर तीन तल बनाए गए हैं। इसके अलावा एक वेटिंग प्लेटफार्म भी है। क्रूज पर 150 लोगों की क्षमता के तीन हाल और 15 लोगों की क्षमता का एक अति विशिष्ट कक्ष बनाया है। एक ट्रिप में दो घण्टे तक क्रूज पर सवारी का आनंद उठाया जा सकेगा।