मुजफ्फरनगर में लव जिहाद: फैज आलम ने सूरज बन हिंदू युवती को फंसाया, फिर शादी का झांसा देकर रेप, प्रेग्नेंट होने पर कराया गर्भपात

280

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) जनपद में लव जिहाद (Love Jihad) का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां एक हिंदू लड़की ने फैज आलम नामक मुस्लिम युवक के खिलाफ मंगलवार को एसएसपी ऑफिस में शिकायत की है। आरोप है कि फैज आलम ने खुद को हिंदू बताकर युवती को शादी का झांसा दिया और कई दिनों तक उसका शारीरिक शोषण किया। इस बीच प्रेग्नेंट होने पर फैज ने पीड़िता का गर्भपात करा दिया और दूसरी लड़की से निकाह कर लिया।

फैज आलम ने सूरज बनकर बढ़ाई थी नजदीकियां

मिली जानकारी के अनुसार, पूरा मामला मुजफ्फरगनर के नई मंडी थाना क्षेत्र का है। यहां हरियाणा के पानीपत की रहने वाली पीड़िता ने बताया कि मुज़फ्फरनगर के बसी कला गाँव का रहने वाला फैज़ आलम उसे सूरज बता कर मिला था। इसी नाम से फैज़ ने पीड़िता को प्रेम जाल में फँसा लिया और शादी का झाँसा देकर कई बार रेप किया।

फैज़ आलम मुज़फ्फरनगर के ही एक घर में पीड़िता को लेकर लगभग डेढ़ साल रहा। बाद में वो पीड़िता को लेकर बेंगलुरु चला गया। इस दौरान फैज़ ने पीड़िता को शादी का झाँसा देकर कई बार बलात्कार किया। लगभग 1 साल पहले जब पीड़िता ने सूरज बने फैज़ पर शादी का दबाव बनाया तो वह टालमटोल करने लगा।

फैज आलम ने पीड़िता का कराया गर्भपात

इसी बीच पीड़िता गर्भवती हो गई। तब फैज़ ने लड़की को जल्द कोर्ट मैरिज करने का झूठा दिलासा दिया और 24 नवंबर 2023 को धोखे से उसे गर्भ गिराने की दवा खाने में डाल कर खिला दी। इस दवा के असर से 26 नवंबर 2023 को पीड़िता का 3 माह की अवधि में गर्भपात हो गया।

पुलिस से की गई शिकायत में बताया गया कि इस दवा के असर के कारण पीड़िता की तबियत खाफी खराब हो गई। फिर भी फैज़ आलम ने उसका कोई इलाज नहीं करवाया। गर्भपात होते ही सूरज बना फैज़ पीड़िता को अकेला छोड़ कर भाग गया। पीड़िता द्वारा कई बार किए गए फोन कॉल का भी फैज़ ने कोई जवाब नहीं दिया।

आरोपी के परिजन बोले- जो करना है कर लो

इतना सब कुछ होने के बाद पीड़िता ने शामली में अस्थाई तौर पर रह रहे अपने परिवार वालों को पूरी बात बताई। जानकारी होने पर पीड़िता के परिवार वाले फैज़ के घर गए। वहाँ पता चला कि फैज़ ने एक मुस्लिम लड़की से निकाह कर रखा है। बताया गया कि यहाँ पहली बार पीड़िता को सूरज के असली नाम फैज़ और उसके मुस्लिम होने की जानकारी हुई।

इस दौरान फैज़ की बीवी फौजिया और उसके अब्बा ने पीड़िता के घर वालों को चैलेन्ज देते हुए कहा कि जाओ जो करना है कर लो। तुम हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकते। इस घटना के बावजूद पीड़िता ने जब फैज़ को कॉल की तो उसे भी आरोपित ने धमकी दी और साथ न रखने की बात कही। फिलहाल, पुलिस ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए जाँच शुरू कर दी है।