बस्ती: शराब के नशे में कांस्टेबल का हंगामा, VIDEO:दुकानदार से फ्री में मांगा आधा किली मीट, रुकने के लिए बोलने पर..जातिसूचक गाली दी, कुर्सियां फेंकी

145

बस्ती में एक कांस्टेबल ने शराब के नशे में जमकर हंगामा किया। कांस्टेबल एक चिकन की शॉप में पहुंचा। जहां वो आधा किलो मीट फ्री में मांगने लगा। दुकानदार ने उसको रुकने के लिए जिसके बाद कांस्टेबल ने झगड़ना शुरू कर दिया। कांस्टेबल ने दुकानदार को गंदी-गंदी गाली दी। साथ ही दुकान में रखी कुर्सियां उठाकर फेंक दी। ये मामला बस्ती के कोतवाली थाना क्षेत्र के बीएसएनएल ऑफिस के पास का है। यहां मुस्लिम युवक नूर मीट की दुकान चलाता है। इस दुकान पर कांस्टेबल अमित सिंह गुरुवार को फ्री में मीट लेने पहुंचा था। कांस्टेबल ने युवक को जाति सूचक गालियां भी दी हैं। इस मामले में एसपी ने कार्रवाई करते हुए कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया है।

कांस्टेबल ने दुकानदार को दी गाली इस पूरे मामले का वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में देखा जा सकता है, कांस्टेबल दुकानदार के सामने खड़े होकर उसको गाली दे रहा है। युवक कांस्टेबल से कहता है, मैंने क्या किया है? जिस पर कांस्टेबल कहता है, तू मेरा वीडियो क्यों बनवा रहा है? मेरा वीडियो बनाकर तू क्या कर लेगा? कहां डालेगा, किसको दिखाएगा? मेरा कोई कुछ नहीं कर पाएगा। परेशान होकर युवक किसी को फोन मिला देता है। युवक फोन पर कहता है, ये कांस्टेबल बहुत बदतमीजी कर रहा है। पूरा सम्मान भुलाकर बात कर रहे हैं। जिसके बाद कांस्टेबल युवक से फोन लेकर उल्टी-सीधी बात करने लगता है। कांस्टेबल कहता है, अब तू मेरी शिकायत करेगा। उसके बाद कांस्टेबल अपने फोन से किसी को फोन मिलाता है। वो फोन पर कहता है, ये लोग मुझे मारने के लिए गुंडा बुला रहे हैं। शुभम तू जल्दी आ जा, ये लोग हमको मारने के लिए बुला रहे हैं।

कांस्टेबल बहुत बदतमीजी कर रहा था- दुकानदार इस मामले में मीट की दुकान चलाने वाले नूर बताते हैं, कांस्टेबल अमित सिंह बहुत नशे में था। वो बहुत बदतमीजी कर रहा था। हमने उसको मीट देने से मना नहीं किया था। मैं तो उसे ये बोला था, ताजा बकरा कट रहा है वो ले जाइएगा लेकिन वो लड़ने लगा। उसने दूसरे ग्राहकों को भी भगा दिया। दुकान की कुर्सी तक फेंक दी। कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया है मामले को लेकर एसपी गोपाल कृष्ण चौधरी ने कहा, कांस्टेबल को निलंबित कर कार्रवाई की जाएगी। किसी भी पुलिसकर्मी को किसी से फ्री में सामान लेने की आजादी नहीं है। ऐसे लोगों पर सख्त एक्शन लिया जाएगा। इस पूरे मामले की जांच सीओ सिटी विनय चौहान को सौंपी गई है।

विज्ञापन बॉक्स