Ram Mandir Pran Pratishtha: पीएम मोदी ने कहा- हमारे राम आ गए हैं…ये क्षण आलौकिक है, ये पल पवित्रतम है

55

अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा (Ram Mandir Pran Pratishtha) पूरी हो चुकी है। गर्भगृह में मंत्रोच्चार के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पूजा-अर्चना की। इस दौरान पीएम मोदी के साथ गर्भगृह में कई अन्य गणमान्य भी मौजूद रहे। प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में लाखों की संख्या में लोग राम मंदिर पहुंचे। सीएम योगी और संघ प्रमुख मोहन भागवत के बाद पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि राम मंदिर के लिए पूरे देश में उत्साह बढ़ता जा रहा था। पीएम मोदी ने कहा कि गुलामी की मानसिकता को तोड़कर यह राष्ट्र खड़ा हुआ है।

उन्होंने कहा कि हजारों साल के बाद भी आज के पल की चर्चा होगी। इस दौरान पीएम मोदी ने विपक्ष पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि एक समय था, जब कुछ लोग कहते थे कि राम मंदिर बना तो आग लग जाएगी। ऐसे लोग भारत के सामाजिक भाव की पवित्रता को नहीं जान पाए। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय समाज की शांति, धैर्य व आपसी सद्भाव एवं समन्वय का प्रतीक है रामलला का यह मंदिर।

Also Read: https://mntnewsbharat.com/14108/“>Ram Mandir Pran Pratishtha: राम मंद‍िर में व‍िराजमान हुए रामलला, अभि‍ज‍ीत मुहूर्त में संपन्न हुई प्राण प्रत‍िष्‍ठा

उन्होंने कहा कि आज हम देख रहे हैं कि राम मंदिर का निर्माण किसी आग को नहीं, बल्कि ऊर्जा को जन्म दे रहा है। राम मंदिर समाज के हर वर्ग को उज्ज्वल भविष्य के पथ पर प्रेरणा लेकर आया है। आज हमें सदियों के उस धैर्य की धरोहर मिली है, आज हमें श्रीराम का मंदिर मिला है। आज से हजार साल के बाद भी लोग आज की इस तारीख की, आज के इस पल की चर्चा करेंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि राम सिर्फ हमारे नहीं है, राम सबके हैं। राम वर्तमान ही नहीं, बल्कि राम अनंतकाल हैं। आज जिस तरह राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के आयोजन से पूरा विश्व जुड़ा है, उसमें राम की सर्व व्यापकता के दर्शन हो रहे हैं। जैसा उत्सव भारत में है, वैसा ही अनेक देशों में है। प्रधानमंत्री ने कहा कि राम मंदिर के लिए 500 सालों के इंतजार के लिए रामलला से क्षमा याचना की।

Also Read: Ram Mandir Pran Pratishtha: श्रीराम के स्वागत में हजारों क्विंटल फूलों से सजी अयोध्या, भक्तिमय माहौल में चाक-चौबंद सुरक्षा

पीएम मोदी ने कहा कि सदियों की प्रतीक्षा के बाद हमारे राम आ गए हैं। अब वे टेंट में नहीं रहेंगे, बल्कि भव्य मंदिर में रहेंगे। पीएम मोदी ने कहा कि 22 जनवरी 2024 का यह सूरज एक अद्भुत आभा लेकर आया है और यह एक नए कालचक्र का उद्गम है। हमारे रामलला अब टेंट में नहीं रहेंगे। हमारे रामलला अब इस दिव्य मंदिर में रहेंगे।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

विज्ञापन बॉक्स