काम पर नही मिले मनरेगा मजदूर तो प्रधान ने कहा मजदूर मदारी देखने चले गए

189

*31 के सापेक्ष मात्र मिले पांच मजदूर फर्जी हाजिरी चढ़ाने में महारथ हासिल हैं रोजगार सेवक नन्हे मद्धैशिया को*

महराजगंज/मिठौरा ब्लाक के ग्राम सभा परसा सिहुली में मनरेगा के तहत रामरक्षा के घर से मेंन रोड तक चकबन्द पर मिट्टी का कार्य करवाया जा रहा हैं जिसमे रविवार के दिन काम हेतु चार मस्टरोल जारी की गई हैं।मनरेगा नियम के अनुसार एक मस्टरोल पर 10 मजदूरों की उपस्थिति दर्शायी जाती हैं।जिससे मस्टरोल प्रोफ़ाइल में उन दस मजदूरों का फोटो स्पष्ठ रूप से दिखाई दे सके।लेकिन परसा सिहुली रोजगार सेवक द्वारा 5 मजदूरों के जगह पर 31 मजदूरों की उपस्थिति मस्टरोल में दर्शाया गया हैं।रोजगार सेवक नन्हे मद्धैशिया द्वारा विभाग को भ्रमित करने के लिए किसी अन्य जगह का एक ही फोटो चारो मस्टरोल प्रोफ़ाइल पर अपलोड कर दिया गया हैं।जिसमें अपडेट फोटो को देखकर हकीकत मालूम चल जाएगा।मनरेगा के कामो को धरातल पर देखा जाय तो ऐसा लग रहा हैं जैसे मनरेगा का पैसा केवल बंदरबाट के लिए ही भेजा जा रहा हैं।थोड़ा भी कार्यवाही का डर नही हैं।ऐसे में सरकारी धन का बंदरबाट कैसे रुकेगा इसका जबाब किसी के पास नही हैं।

विज्ञापन बॉक्स