देवरिया हत्याकांड में CM योगी का बड़ा एक्शन, SDM, CO, तहसीलदार समेत 15 अधिकारी सस्पेंड

310

उत्तर प्रदेश के देवरिया (Deoria) जिले में हाल में हुए हत्याकांड में सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बड़ा एक्शन लिया है. सीएम ने देवरिया के एसडीएम, सीओ और तहसीलदार समेत 15 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है. साथ ही सीएम ने कहा कि दोषी कोई भी हो, हर एक के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.

शासन की ओर से बताया गया है कि देवरिया जिले के थाना रूद्रपुर के गांव फतेहपुर में हुई घटना के संबंध में कर्मचारी और अधिकारी की घोर लापरवाही सामने आई है. विवाद के संबंध में स्व. सत्य प्रकाश दुबे की ओर से ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जा के संबंध में आईजीआरएस पर शिकायत की गई थी. अब सामने आया है कि किसी भी अधिकारी ने इसका संज्ञान नहीं लिया है. न ही शिकायत का निस्तारण किया गया था. योगी के आदेश पर उपजिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी, दो तहसीलदार, तीन लेखपाल, हेड कॉन्स्टेबल, 4 कॉन्स्टेबल, 2 हल्का प्रभारी और थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है.

मामले में लापरवाही बरतने पर वर्तमान उपजिलाधिकारी योगेश कुमार गौड़ और क्षेत्राधिकारी रुद्रपुर जिलाजीत को तत्काल निलंबित करने का योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है. पूर्व में उपजिलाधिकारी रहे राम विलास, ओम प्रकाश, ध्रुव शुक्ला एवं संजीव कुमार उपाध्याय के खिलाफ विभागीय कार्रवाई का आदेश भी दिया. सेवानिवृत्त तहसीलदार वंशराज राम और सेवानिवृत्त राजस्व निरीक्षक रामानन्द पाल के खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई करने का आदेश दिया है. वहीं, अभय राज (वर्तमान में निलंबित तहसीलदार) को अतिरिक्त आरोप पत्र जारी करने के आदेश दिए हैं.

इसके अलावा रामाश्रय तत्कालीन तहसीलदार, वर्तमान तहसीलदार जिला बलरामपुर को निलंबित करने के साथ विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं. केशव कुमार तहसीलदार रूद्रपुर को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई का आदेश जारी किया. विशाल नाथ यादव (राजस्व निरीक्षक), राजनन्दनी यादव (क्षेत्रीय लेखपाल), अखिलेश (लेखपाल) को निलंबित कर दिया गया है. साथ ही विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं. हेड कॉन्स्टेबल राजेश प्रताप सिंह, कॉन्स्टेबल अवनीश चौहान, हल्का प्रभारी उपनिरीक्षक जय प्रकाश दुबे और प्रभारी निरीक्षक नवीन कुमार सिंह को भी निलंबित कर दिया है. इनके खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

पूर्व में आईजीआरएस के संदर्भों में निस्तारण में लापरवाही के लिए उत्तरदायी पाए गए कैलाश पटेल, कॉन्स्टेबल राम प्रताप कन्नौजिया, सुभाष यादव एवं उपनिरीक्षक सुनील कुमार, पूर्व प्रभारी निरीक्षक, रूद्रपुर को निलंबित किया गया. तत्कालीन क्षेत्राधिकारी रूद्रपुर दिनेश कुमार सिंह यादव के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

Also Read: योगी का मिशन शक्ति: यूपी में महिला अपराध के आंकड़ों में आ रही कमी, जानिए क्या कहते हैं आंकड़े

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )