अयोध्या: हनुमानगढ़ी में साधु की गला रेतकर हत्या, मंदिर के आश्रम में मिली लाश, सीसीटीवी कैमरा बंद

439

रामनगरी अयोध्या (Ayodhya) के प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर (Hanumangarhi Temple) परिसर में स्थित आश्रम में एक साधु की गला रेतकर हत्या (Sadhu Murder) कर दी गई है। गुरुवार यानी आज सुबह इसकी जानकारी होने पर हड़कंप मच गया। साधु राम सहारे दास हनुमानगढ़ी की बसंतिया पट्टी के संत दुर्बल दास के शिष्य थे। वहीं, सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई है। वहीं, सूचना मिलते ही आईजी और एसएसपी सहित अन्य पुलिस अफसर मौके पर पहुंच गए हैं। बताया जा रहा है कि अंबेडकरनगर के भीटी में करीब 10 बीघा जमीन के हक को लेकर इस वारदात को अंजाम दिया गया है।

बंद मिला सीसीटीवी कैमरा

बताया जा रहा है कि मृतक साधु आश्रम के सबसे अंदरूनी हिस्से के तीसरे कमरे में रहता था। उनके साथ दो शिष्य भी रहते थे। घटना के बाद से ऋषभ शुक्ला नामक शिष्य मौके से फरार मिला, जबकि दूसरे शिष्य गोविंद दास को पुलिस ने हिरासत में लिया है। फरार ऋषभ शुक्ला को मृतक साधु ने 15 दिन पहले ही अपने साथ रखा था और वह खाना बनाता था।

Also Read: बुलंदशहर: अधेड़ मुरसलीन ने जिस हाथ से की थी छात्रा से छेड़छाड़, पुलिस ने उसे ‘तोड़ा’, CCTV में कैद हुई घटना




वहीं, मंदिर व अगल-बगल रहने वाले नागा साधुओं का कहना है कि मृतक रामसहारे दास हनुमान जी का श्रृंगार आदि करता था। वहीं, उक्त आश्रम में सभी कमरों में सीसीटीवी लगा हुआ था लेकिन उसे किसी ने बंद कर दिया था। पुलिस को कुछ ऐसे फुटेज मिले हैं जिसमें सीसीटीवी बंद करने वाला कैद हो गया है। पुलिस ने फुटेज व हार्ड डिस्क को अपने कब्जे में ले लिया है।

खुलासे के लिए लगाई गई चार टीमें

एसपी राजकरण नायर ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। घटना के खुलासे के लिए चार टीमों को लगाया गया है। हत्या का कारण क्या है और किसने की इसकी जांच की जा रही है। ध्यान रहे की एक माह के अंदर हनुमानगढ़ी परिसर में यह दूसरी वारदात है। इससे पूर्व इसी आश्रम के सामने स्थित एक दूसरे आश्रम में संस्कृत के एक छात्र ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी।
<


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )