श्रावस्ती: जिलाधिकारी ने किया दिव्यांग हेल्प डेस्क/काल सेंटर का उद्घाटन

59

श्रावस्ती। दिव्यांगों को अब जिले में एक काल पर ही परामर्श के साथ उपकरण मेजरमेंट की सुविधा मिलेगी। दिव्यांगों को यह सुविधा सुबह दस से शाम पांच बजे तक मिलेगी। प्रदेश का यह पहला कॉल सेंटर होगा। जिसका संचालन जिले स्तर पर जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र करेंगी। जिसका शुभारंभ जिलाधिकारी कृतिका शर्मा ने इमरजेंसी आपरेशन सेंटर (ई0ओ0सी0) आपदा हाल में किया।
इस सेंटर के बाद दिव्यांगों को योजनाओं की जानकारी के लिए कार्यालय तक चलकर नहीं आना होगा। उन्हे फोन पर ही सारी जानकारी प्राप्त हो जायेगी। यह प्रदेश का पहला काल सेंटर व हेल्प डेस्क है। जहां पर दिव्यांगों को सुबह दस से शाम पांच बजे तक फोन से उनके समस्याओं समाधान की सुविधा दी जायेगी। दिव्यांगजन किसी भी सहायता के लिए 8354869590, 05250297301, 05250297301 पर सुबह 10 बजे से 5 बजे तक संपर्क कर सकते हैं और अपनी समस्याओं से अवगत करा सकते हैं। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बताया कि दिव्यांगों को घर बैठे ही उनसे संबंधित योजनाओं की जानकारी एक फोन काल से ही मिल जाए, ताकि उन्हें अनावश्यक कार्यालयों का चक्कर न लगाना पड़े। इस फोन काल पर दिव्यांग कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण के लिए भी पंजीकरण करा सकेगे। पंजीकरण के बाद जब उन्हें एस्सेमेंट के लिए बुलाया जाएगा, तो एक बार उन्हें जिला दिव्यांग केंद्र में आना होगा। यह एक ऐसी सेवा है जो दूर-दराज क्षेत्र के दिव्यांगों के लिए वरदान साबित होगी। इस सेवा का लाभ उन लोगों को मिलेगा जो अपने लक्ष्य पर खड़े होना तो चाहते हैं लेकिन उन्हें जानकारी, मार्गदर्शन और सलाह की सख्त जरूरत होती है।इस मौके पर मौजूद अपर जिलाधिकारी अमरेन्द्र कुमार वर्मा ने कहा कि प्रत्येक दिव्यांग को यह जाने का लक्ष्य है कि उनका अधिकार क्या हैं, या जब उनके अधिकारों का उल्लंघन हो रहा है। तो उन्हें क्या करना चाहिए। इसके लिए जागरूक
रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव अरुण कुमार मिश्र ने बताया कि उत्तर प्रदेश में दिव्यांगों को परामर्श व सहायता के लिए खोला गया पहला कॉल सेंटर है। इसका संचालन जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र द्वारा किया जा रहा हैं। यहां फोन पर परामर्श के साथ ही कलेक्ट्रेट में आने वाले दिव्यांगों की सहायता भी की जाएगी।
इस अवसर पर जिलाधिकारी/अध्यक्ष ने नीलम सिंह को ब्लाइंड केन, पूजा देवी को कान की मशीन, कृष्णपाल सिंह को ट्राइसाइकिल व छड़ी, अंकित कुमार को ब्लाइंड केन और ब्रेल भी वितरित की।
इस अवसर पर वाइस चेयरमैन रेडक्रॉस सोसायटी, कोषाध्यक्ष रवि मिश्र, प्रमोद कुमार सिंह, मनीष शुक्ला, अरविंद कुमार पाठक, शिवम मिश्र समेत अन्य लाभार्थी गण उपस्थित रहे।