सिद्धार्थनगर: शाम को घर से खेत के लिए निकली थी लड़की, सुबह ऐसे हाल में नाबालिग की मिली लाश

92

सिद्धार्थनगर जिले के बांसी कोतवाली इलाके के एक गांव में शाम को घर से निकली किशोरी की सुबह गांव के पोखरे में लाश मिली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस जांच में जुटी है।

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के बांसी कोतवाली इलाके के भिटिया गांव में स्थित पोखरे में मंगलवार दोपहर एक किशोरी का उतरता हुआ शव मिला। ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने शव को बाहर निकलवाया और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पीड़ित परिजनों के मुताबिक, किशोरी शाम को खेत की ओर जाने की बात कहकर निकली थी। सुबह वह लोग गुमशुदगी का तहरीर देने के लिए बांसी कोतवाली गए थे। इसी बीच लाश मिलने की सूचना मिली।

क्षेत्र के भिटिया गांव निवासी सरहना (15) पुत्री जब्बार सोमवार शाम छह बजे के करीब घर से खेत की ओर गई थी। वह जब देर रात तक घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने उसकी तलाश की। लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चला। परिवार के लोगों ने मंगलवार को सुबह दस बजे बांसी कोतवाली पहुंचकर पुलिस को रिपोर्ट दर्ज कराई।

दो बजे के करीब कोई व्यक्ति शौच के लिए गांव के पश्चिम पोखरे की तरफ गया था, वहां देखा लड़की की लाश पड़ी थी। उसने इसकी सूचना गांव वालों को दी। मौके पर गांव के लोगों की भीड़ जमा हो गई। शव को देखा तो सरहना के रूप में पहचान हुई।

सूचना पर पहुची बांसी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जब्बार का एक बेटा और आठ बेटी है। कुल नौ बच्चे हैं, जिसमें सरहना पांचवें नंबर की पुत्री थी। जब्बार घर पर ही रह कर मेहनत मजदूरी करता है।

इस घटना से परिवार का रो रोकर बुरा हाल है। इस संबंध में बांसी कोतवाली प्रभारी अनुज कुमार सिंह ने बताया तहरीर मिली है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।