नीतीश कुमार इंडिया गठबंधन में रहते तो बन सकते थे PM, आखिर भाजपा में उन्हें क्या मिलेगा: अखिलेश यादव

99

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के एक बार फिर एनडीए में जाने की सुगबुगाहट शुरू हो गई है। इस बीच समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) का बड़ा बयान सामने आया है। सपा चीफ का कहना है कि नीतीश कुमार को भाजपा के साथ नहीं जाना चाहिए, वहां उन्हें क्या मिलेगा? अगर इंडिया गठबंधन में होते तो वह प्रधानमंत्री भी बन सकते थे। हम सभी में से कोई एक पीएम का उम्मीदवार तो है ही। यहां किसी का भी नंबर लग सकता है।

नीतीश को इंडिया गठबंधन में रखने की कांग्रेस की थी जिम्मेदारी

दरअसल, एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि यह कांग्रेस की जिम्मेदारी थी कि वह नीतीश कुमार को इंडिया गठबंधन में बनाए रखे। उनकी नाराजगी समझनी चाहिए थी। कांग्रेस को जिस तत्परता के साथ हालात संभालने चाहिए थे उसने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कहा कि इंडिया गठबंधन में शामिल सभी दल उनका सम्मान करते हैं। कोई भी दल ऐसा नहीं, जो उनका सम्मान न करता हो।

Also Read: UP: नीतीश कुमार के NDA संग जाने पर अखिलेश बोले- वो कहीं नहीं जा रहे, वो इंडिया गठबंधन के साथ हैं, ये BJP का शिगूफा है

अखिलेश यादव ने कहा कि इंडिया गठबंधन के अमल में आने में नीतीश कुमार की भूमिका बड़ी मानी जाती रही है। जब एक समय कांग्रेस के साथ ममता, अखिलेश सहित बाकी क्षेत्रीय पार्टियों ने बात करनी बात की थी उस समय नीतीश कुमार ही संयोजक बनकर सभी दलों से मिले थे। पटना में इंडिया गठबंधन की बड़ी मीटिंग भी आयोजित हुई थी।

वहीं, कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि नीतीश कुमार अपनी विश्वसनीयता खो चुके हैं। इसके लिए उनके फैसले और वो स्वयं जिम्मेदार हैं। जेडीयू और उसके नेताओं की करतूतों के कारण विपक्ष के लिए नई उम्मीद बना इंडिया गठबंधन खतरे में नजर आ रहा है। कांग्रेस को पूरे देश में अकेले चुनाव लड़ने पर विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इन बैसाखियों के सहारे इतनी बड़ी लड़ाई नहीं लड़ी जा सकता है।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

विज्ञापन बॉक्स