खिलानौं में चीन की बादशाहत होगी खत्म, यूपी में योगी सरकार का 100 एकड़ का टॉय पार्क हो रहा तैयार

92

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार 100 एकड़ में टॉय पार्क कलस्टर का निर्माण करा रही है. यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यीडा) के अंतर्गत इस पार्क को बनाया जा रहा है. इस पार्क के बनने के बाद देश में खिलौनों के उत्पादन को बढ़ाया जा सकेगा. इससे चीन के खिलौनों का खेल खत्म हो जाएगा. ग्रेटर नोएडा के सेक्टर 33 में स्थापित हो रहे इस टॉय पार्क में औद्योगिक इकाइयों का शिलान्यास और लोकार्पण किया जा रहा है. अगले साल यहां उत्पादन शुरू होने की उम्मीद है. इस टॉय पार्क की मदद से भारत का खिलौना मार्केट चीन को पछाड़ सकेगा.

142 भूखंडों का किया गया आवंटन

यीडा के अध्यक्ष अनिल कुमार सागर ने शनिवार को टॉय पार्क के निर्माण कार्यों का शिलान्यास किया. इस टॉय पार्क के लिए प्राधिकरण द्वारा विभिन्न श्रेणी के 142 भूखंडों का आवंटन किया गया है, जिनमें से 91 इकाइयों को चैक लिस्ट जारी की जा चुकी है. इसके साथ ही 39 इकाइयों द्वारा लीज डीड की कार्रवाई की जा चुकी है. एक साल के अंदर फैक्ट्रियों का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद खिलौनों का उप्तादन शुरू हो सकेगा. इस टॉय पार्क के बनने के बाद करीब 50 देशों में खिलौनों का निर्यात किया जाएगा.

टॉय पार्क क्लस्टर में लग रहे ये उद्योग

इस क्लस्टर में सॉफ्ट टॉय, इलेक्ट्रॉनिक टॉय, लकड़ी के खिलौने, राइड ऑन टॉय, स्लाइड्स, बोर्ड गेम्स, प्लास्टिक टॉय, प्लेग्राउंड इक्विपमेंट टॉय आदि का निर्माण किया जाएगा. टॉय इंडस्ट्री की दिग्गज कंपनियां यहां आवंटित भूखंडों पर सॉफ्ट टॉय मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स, राइड ऑफ टॉय यूनिट, इलेक्ट्रॉनिक टॉय मैन्युफैक्चरिंग यूनिट, मैकेनिकल टॉय के अलावा इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफॉर्मर्स फॉर टॉयज एंड इलेक्ट्रिकल टॉयज जैसी यूनिट्स स्थापित करेंगी. इनमें फन जू टॉयज इंडिया, फन राइड टॉयज एलएलपी समेत कई अन्य कंपनियां शामिल हैं.

5 एकड़ में बन रहा कॉमन फैसिलिटी सेंटर

प्राधिकरण द्वारा टॉय पार्क क्लस्टर में पांच एकड़ क्षेत्रफल में कॉमन फैसिलिटीज सेंटर का भी निर्माण किया जा रहा है. यमुना प्राधिकरण का टॉय क्लस्टर देश का सबसे बड़ा टॉय क्लस्टर है. टॉय क्लस्टर में काफी रोजगार की भी संभावनाएं हैं. जानकारी के अनुसार इस टॉय पार्क क्लस्टर के निर्माण से करीब 1100 करोड़ रुपये का निवेश तथा 6 हजार लोगों के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार का भी सृजन होने की संभावना है.

सुविधा और सुरक्षा को ध्यान में रखकर तैयार हो रहा इंफ्रास्ट्रक्चर

भारत सरकार की पीएलआई स्कीम के अंतर्गत जो भी सुविधाएं आवश्यक हैं वे सभी प्राधिकरण द्वारा दी जा रही हैं. टॉय एसोसिएशन की डिमांड के आधार पर इस टॉय पार्क में नियोजन किया गया, जो की मूर्त रूप प्राप्त कर रहा है. प्राधिकरण द्वारा इस सेक्टर में विकास कार्य जिनमें मुख्यतः रोड, सीवरेज, इलेक्ट्रिकल लाइंस, पानी की व्यवस्था आदि की गई है. उद्यमियों को सुरक्षा और ट्रांसपोर्ट की बेहतर सुविधा प्रदान की जाएगी. बिजली, पानी, सड़क कनेक्टिविटी इस क्लस्टर को उपलब्ध रहेंगी.

यह भी पढ़ेंः Janmashtami 2023 Date: 6 या 7 सितंबर, आखिर कब है जन्माष्टमी ?, जानें डेट, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि


दुनिया प्रदेश की ताजा तरीन खबरें और रोचक जानकारीयों के लिए जुडिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से..लेटेस्ट ब्रेकिंग न्यूज अपने व्हाट्सएप पर पायें…

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )